• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • 15 मार्च से किसानों से गेहूं के साथ चना, सरसों, मसूर भी खरीदेगी मध्य प्रदेश सरकार: कमल पटेल

15 मार्च से किसानों से गेहूं के साथ चना, सरसों, मसूर भी खरीदेगी मध्य प्रदेश सरकार: कमल पटेल

किसानों की कर्ज माफी के मुद्दे पर मध्य प्रदेश विधानसभा में बुधवार को जमकर हंगामा हुआ.

किसानों की कर्ज माफी के मुद्दे पर मध्य प्रदेश विधानसभा में बुधवार को जमकर हंगामा हुआ.

बुधवार को केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) से मिलने के बाद कमल पटेल (Kamal Patel) ने कहा कि गेंहू के साथ ही चना, सरसों, मसूर की खरीद शुरू होने से किसानों को समर्थन मूल्य (MSP) से ज्यादा दाम मिलेगा. उन्होंने बताया कि चना बाजार में पहले आता है, मगर खरीदा बाद में जाता है. इस बार गेहूं के साथ ही खरीदने का फैसला किया गया है

  • Share this:

नई दिल्ली. मध्य प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल (Kamal Patel) ने दावा किया है कि सरकार किसानों की आय वर्ष 2022 के तय लक्ष्य से एक साल पहले ही दोगुनी कर देगी. उन्होंने कहा कि 15 मार्च से गेहूं के साथ चना, सरसों, मसूर की खरीद भी होगी. खरीद की सीमा को भी बढ़ा दिया गया है. बुधवार को केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) से मिलने के बाद कमल पटेल ने कहा कि गेंहू के साथ ही चना, सरसों, मसूर की खरीद शुरू होने से किसानों को समर्थन मूल्य (MSP) से ज्यादा दाम मिलेगा. उन्होंने बताया कि चना बाजार में पहले आता है, मगर खरीदा बाद में जाता है. इस बार गेहूं के साथ ही खरीदने का फैसला किया गया है. राज्य में 86 फीसदी किसान छोटे है उनकी क्षमता नहीं है कि वो फसल को जून-जुलाई तक रोकें, इस वजह से कम दाम पर फसल बेच देते हैं.

कमल पटेल ने कहा कि मंडी में समर्थन मूल्य चना, मसूर 5100, और सरसों 4650 रुपए प्रति क्विंटल भाव है. राज्य सरकार की योजना के चलते किसानों को इससे ज्यादा फसल का भाव मिलेगा. चना, मसूर और सरसों 80 लाख मीट्रिक टन होगा. किसानों को एक हजार रुपये प्रति क्विंटल ज्यादा भाव दिलाएंगे. करीब किसानों की जेब मे 16 हजार करोड़ रुपये ज्यादा जाएगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का किसानों की आय 2022 तक दोगुनी करने के लक्ष्य को एक साल पहले ही मध्य प्रदेश के किसानों ने कर दिया है. उन्होंने कहा कि मध्य सरकार के फैसले का असर देश के दूसरे राज्य के किसानों पर भी पड़ेगा. केंद्र सरकार ने स्वामित्व योजना और तीन कृषि सुधार कानून किसानों की आय दोगुनी करने के लिए ही बनाए हैं.
स्वामित्व योजना के चलते गांव के लोगों को भी बैंक से कर्ज मिल सकेगा और व्यापार भी कर सकेंगे. गांव आत्मनिर्भर होगा तो देश आत्मनिर्भर होगा.

उन्होंने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि 60 साल में गांव का विकास नहीं कर सके, पक्के घर, शौचालय तक नहीं बना सके, गैस कनेक्शन, पीने का पानी तक नहीं मुहैया करा सके. अटल जी, मोदी जी ने गांव और किसानों का विकास शुरू किया है. कांग्रेस के हर प्रश्न का जवाब हमारे पास है, मगर हमारे प्रश्नों का जवाब कांग्रेस के पास नहीं है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज