गंदगी करने वालों पर सख्त हुआ भोपाल नगर निगम, लगा रहा है लोगों पर स्‍पॉट फाइन
Bhopal News in Hindi

गंदगी करने वालों पर सख्त हुआ भोपाल नगर निगम, लगा रहा है लोगों पर स्‍पॉट फाइन
गंदगी फैलाने वालों पर स्‍पॉट फाइन लगा रहा है भोपाल नगर निगम.

नगर निगम भोपाल (Municipal Corporation Bhopal) शहर में गंदगी करने वालों पर सख्त कार्रवाई कर रहा है. स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 (Cleanliness Survey 2020) के मद्देनजर निगम लोगों पर स्पॉट फाइन लगा रहा है.

  • Share this:
भोपाल. नगर निगम भोपाल (Municipal Corporation Bhopal) शहर में गंदगी करने वालों पर सख्त कार्रवाई कर रहा है और वह पकड़े जाने वाले लोगों पर स्पॉट फाइन लगा रहा है. वैसे स्पॉट फाइन (Spot Fine) का टारगेट निगम के सभी सफाई अधिकारियों को सौंपा गया है. जबकि इनमें से सबसे ज्यादा स्पॉट फाइन करने वाले जोन के अफसरों को सम्मानित भी किया जा रहा है. वैसे स्पॉट फाइन की कार्रवाई की निगम कमिशनर विजय दत्ता (Vijay Dutta) मॉनि‍टरिंग कर रहे हैं.

यहां लगा सबसे अधिक फाइन
भोपाल के जोन 17 और जोन 9 में सबसे ज्यादा स्पॉट फाइन की कार्रवाई करते हुए एक लाख रुपए से ज्यादा का फाइन लगाया गया है, जिसमें सेप्टिक टैंक का सीवेज सड़क पर फैलाने के मामले में 75 हजार का स्पॉट फाइन खास है. जबकि कई कॉलोनाइजर्स के खिलाफ भी नगर निगम ने कार्रवाई करते हुए वसूली की है. शहर में खुले में सीवेज सड़क पर आने के कारण लोगों को परेशानी होती है, लिहाजा गंदगी फैलाने के मामले में नगर निगम ने कई स्थानों पर स्पॉट फाइन करते हुए राशि वसूल की है.

इस वजह से निगम ने उठाया कदम
स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 के मद्देनजर नगर निगम शहर में गंदगी करने वालों पर तुरंत ही स्पॉट फाइन लगाने और जुर्माना करने के निगम आयुक्त ने सभी 19 जोन के स्वास्थ्य अधिकारियों को अल्टीमेटम दिया है. उन्हें साफ तौर पर अलर्ट किया गया है कि उनके क्षेत्रों में कहीं भी कॉलोनी या मकान से सीवेज सड़क पर आए तो संबंधित व्यक्ति के खिलाफ स्पॉट फाइन लगाया जाए, जिसके लिए अलग-अलग टीमें बनाई गई हैं. कार्रवाई के दौरान कई नामी बिल्डरों पर भी कार्रवाई की गई है जिनमें चिनार बिल्डर्स पर 25 हजार, आधारशिला वेस्ट क्लब वेल्फेयर सोसायटी पर 5 हजार, रॉयल होम्स अयोध्या नगर पर 25 हजार और हरसिद्धी कॉम्पलेक्स पर 20 हजार रूपए का स्पॉट फाइन लगाया गया है.



सिगरेट-गुटका वालों पर भी हो रही है कार्रवाई
जबकि सड़क किनारे और सार्वजनिक स्थानों पर सिगरेट और पान गुटखा खाने वालों पर भी कार्रवाई की गई है. निगम अमले ने पहली बार ई-सिगरेट बेचने वालों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए दुकानदार से सिगरेट जब्‍त कीं. इसके अलावा पॉलीथिन के खिलाफ चल रहे अभियान के दौरान 20 हजार रुपए का स्पॉट फाइन लगाया गया. यही नहीं, निगम अमला लगातार व्यापारियों को साफ सफाई की शपथ दिलवा रहा है. वहीं उन्हे सूखे और गीले कचरे को अलग-अलग रखने के लिए नि:शुल्क डस्टबिन भी सौंपे जा रहे हैं.

भोपाल नगर निगम, Bhopal Municipal Corporation, Dustbin, कूड़ेदान
लोगों को डस्‍टबिन भी दे रहा है निगम.


डेंगू को लेकर अलर्ट पर हैं अधिकारी
स्वास्थ्य विभाग की टीम डेंगू को लेकर भी अलर्ट है और अधिकारी भी इलाकों में लगातार सर्वे कर रहे हैं. यही नहीं, स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट और निगम कमिश्‍न भी कई स्थानों पर साफ-सफाई व्यवस्था का जायजा ले रहे हैं. अधिकारियों ने शहरवासियों को डेंगू से बचाव के लिए नि:शुल्क होम्योपैथिक वैक्सीन भी बांटी. इसके अलावा शहर में डेंगू की रोकथाम के लिए नगर निगम अमला फागिंग सहित खुले प्लाटों में कीटनाशक दवाओं का छिड़काव कर रहा है. निगम कमिशनर विजय दत्ता और स्वास्थ्य विभाग घर-घर जाकर डेंगू और मलेरिया के लार्वे की जांच कर रहा है.

ये भी पढ़ें
ज्योतिरादित्य सिंधिया ही नहीं MP के ये दिग्‍गज नेता भी कर चुके हैं अपने Twitter बायो में बदलाव

हनी ट्रैप केस में ED की एंट्री! SIT से मांगी महिला आरोपियों से संबंधित ये जानकारी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज