भोपाल: US की स्कॉलरशिप जारी करने के बदले मांगे 2 लाख, लोकायुक्त के हत्थे चढ़ा अधिकारी

अल्पसंख्यक विभाग के डायरेक्टर को रिश्वत लेते गिरफ्तार किया गया.. (प्रतिकात्मक फोटो)

अल्पसंख्यक विभाग के डायरेक्टर को रिश्वत लेते गिरफ्तार किया गया.. (प्रतिकात्मक फोटो)

लोकायुक्त पुलिस ने पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण विभाग, भोपाल में पदस्थ सहायक संचालक एचबी सिंह को 25 हजार की रिश्वत लेते रंगेहाथ पकड़ा है.

  • Last Updated: January 29, 2021, 5:13 PM IST
  • Share this:
भोपाल. अमेरिका में पढ़ाई के लिए स्कॉलरशिप जारी करने के नाम पर रिश्वत लेने वाले अधिकारी को लोकायुक्त ने रंगे हाथों गिरफ्तार किया. लोकायुक्त पुलिस ने पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण विभाग, भोपाल में पदस्थ सहायक संचालक एचबी सिंह को 25 हजार की रिश्वत लेते रंगेहाथ पकड़ा है. जबकि, उसकी मांग 2 लाख रुपए थी. गिरफ्तारी की यह कार्रवाई सतपुड़ा भवन के मुख्य द्वार की गई.

लोकायुक्त सलील शर्मा ने बताया कि वल्लभ पाटीदार धार के मेहगांव थाना धामनोद के रहने वाले हैं. उनके बेटे हेमंत पाटीदार की फॉरेन स्टडी के लिए स्वीकृत छात्रवृत्ति के लिए सिंह ने यह रिश्वत मांगी थी. हेमंत का चयन एरिजोना यूनिवर्सिटी फिनिक्स सिटी अमेरिका के लिए हुआ है. स्वीकृत छात्रवृत्ति के भुगतान एवं उसमें पांच हजार डॉलर की वृद्धि करने के बदले सिंह ने पहले दो लाख रुपये की मांग की. उसने कहा था कि छात्रवृत्ति की राशि में पांच हजार डॉलर बढ़ाने पर चार हजार डॉलर वह स्वयं रखेगा और एक हजार डॉलर छात्र को दिए जाएंगे.

Youtube Video


एमपी में स्कॉलरशिप के नाम पर रिश्वतखोरी
लोकायुक्त अब इस बात को लेकर भी जांच कर रही है कि क्या आरोपी और विभाग में पदस्थ दूसरे अधिकारी कर्मचारियों ने भी स्कॉलरशिप के नाम पर लोगों से रिश्वतखोरी की है. बताया जाता है कि जब सिंह पहली किश्त के तौर पर 25 हजार रुपए मांगे थे तो वल्लभ पाटीदार ने 27 जनवरी को इसकी शिकायत पुलिस अधीक्षक लोकायुक्त भोपाल से की. इसके बाद वल्लभ पाटीदार रिश्वत की 25 हजार रुपए की पहली किस्त सिंह को देने पहुंचे थे. सिंह जब सतपुड़ा से बाहर रिश्वत के रुपयों को जैसे ही अपनी जेब में रख रहे थे, लोकायुक्त पुलिस ने उन्हें दबोच लिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज