काले मास्क लगाकर बैठे शिवराज, कैलाश और वी डी, उस पर लिखा था आपातकाल  

भोपाल में बीजेपी दफ्तर में मीसाबंदियों का सम्मान किया गया

Bhopal News वी डी शर्मा ने कहा-कांग्रेस के लोग आज भी लोकतांत्रिक संस्थाओं और प्रक्रियाओं पर सवाल उठाते हैं. इतना ही नहीं कांग्रेस सहित हमारे कई वैचारिक प्रतिद्वंदी भी लोकतंत्र का गला घोंट रहे हैं. पश्चिम बंगाल और केरल जैसे राज्यों में कांग्रेसी मानसिकता वाले दल आपातकाल जैसे हालात पैदा कर रहे हैं.

  • Share this:
भोपाल. देश में 25 जून 2975 को तत्कालीन इंदिरा गांधी सरकार (Indira Gandhi) ने आपातकाल (Emergency 1975) लगाया था. भोपाल में बीजेपी नेताओं ने अपने अलग अंदाज में इसका विरोध दर्ज कराया. मीसाबंदियों का सम्मान किया गया. बीजेपी नेताओं ने कहा केरल और पं बंगाल में आपातकाल जैसे हालात हैं.

आपातकाल की बरसी पर बीजेपी प्रदेश मुख्याल में मीसाबंदियों के कार्यक्रम में बीजेपी नेताओं ने आपातकाल को लेकर अपना विरोध दर्ज कराया. मीसाबंदियों के सम्मान समारोह में सीएम शिवराज, राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय और प्रदेश अध्यक्ष वी डी शर्मा समेत कई बड़े नेता चेहरे पर काले मास्क लगाकर बैठे. खास बात ये रही कि इन मास्क पर आपातकाल लिखा हुआ था.

लोकतंत्र की हत्या
आपातकाल लगाने के लिए सीएम शिवराज ने तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा सरकार और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा. सीएम शिवराज के मुताबिक भारत के इतिहास में 25 जून 1975 वह काला दिन है, जब देश में आपातकाल लगाकर लोकतंत्र की हत्या की गयी थी. अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता और मौलिक अधिकारों पर प्रतिबंध लगा दिया गया था. केवल अपनी कुर्सी बचाने के लिए कांग्रेस ने लोकतंत्र को कुचल दिया था. लोकतंत्र को कुचलने वालों को देश कभी माफ नहीं करेगा. लेकिन आज हम उनका सम्मान कर रहे हैं, जिन्होंने असीम कष्ट सहे और जिनकी वहज से लोकतंत्र की बहाली हुई.

वी डी भी बरसे
कार्यक्रम में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने तत्कालीन इंदिरा गांधी की सरकार को कठघरे में खड़ा करते हुए कहा उस वक़्त लोकतंत्र की हत्या कर देश में आपातकाल लगाया था. हम आपातकाल के इस दिन को काले दिवस के रूप में मनाते हैं. कांग्रेस के लोग आज भी लोकतांत्रिक संस्थाओं और प्रक्रियाओं पर सवाल उठाते हैं. इतना ही नहीं कांग्रेस सहित हमारे कई वैचारिक प्रतिद्वंदी भी लोकतंत्र का गला घोंट रहे हैं. पश्चिम बंगाल और केरल जैसे राज्यों में कांग्रेसी मानसिकता वाले दल आपातकाल जैसे हालात पैदा कर रहे हैं.

मीसाबंदियों का सम्मान
कार्यक्रम में मीसाबंदियों का सम्मान किया गया. इनमें विभीषण सिंह, तपन भौमिक, भरत चतुर्वेदी, रामभुवन सिंह कुशवाह, कर्नल नारायण परवानी, बनवारीलाल सक्सेना, अरुण कुलकर्णी, मांगीलाल पोरवाल, सुरेन्द्र द्विवेदी और बिहारीलाल लालवानी का सम्मान किया गया.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.