अपना शहर चुनें

States

भोपाल: भानपुर खंती में अब खिलाड़ियों की रहेगी चहलकदमी, बनेगा राजधानी का पहला गोल्फ कोर्स

बाकी के 20 एकड़ जमीन को नगर निगम ग्रीन फील्ड में बदला जा रहा है. (सांकेतिक फोटो)
बाकी के 20 एकड़ जमीन को नगर निगम ग्रीन फील्ड में बदला जा रहा है. (सांकेतिक फोटो)

भानपुर खंती में साइंटिफिक क्लोजर वर्क (Scientific Closure Work) 2018 में शुरू हुआ था, जो अब आखिरी दौर में पहुंच चुका है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 9, 2020, 10:38 AM IST
  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal) के भानपुर खंती (Bhanpur Khanti) की पहचान अब कचरे की ढेर से नहीं होगी, बल्कि अब यहां पर खिलाड़ियों की चहलकदमी रहेगी. दरअसल, 36 एकड़ में फैले भानपुर खंती का अब कायाकल्प होने वाला है, क्योंकि इसके 12 एकड़ दायरे में राजधानी का पहला गोल्फ कोर्स (Golf Course) बनेगा. इसे  बनाने के लिए नगर निगम से हरी झंडी भी मिल गई है. खास बात यह है कि खुद नगर निगम ही इसका निर्माण करेगा. ऐसे में ढाई साल पहले तक जिस भानपुर खंती की पहचान सड़ांध मारते व जहरीला धुआं उगलते कचरे के ऊंचे पहाड़ों से होती थी, अब उसको हरी इंग्लिश ग्रास (Green English Grass) और हरियाली से पटे खूबसूरत टीलों, पार्क और गोल्फ कोर्स से जाना जाएगा.

जानकारी के मुताबिक, भानपुर खंती में साइंटिफिक क्लोजर वर्क (Scientific Closure Work) 2018 में शुरू हुआ था, जो अब आखिरी दौर में पहुंच चुका है. यहां 36 एकड़ में 18 लाख मीट्रिक टन कचरा डंप था. इसे बायो रेमिडिएशन तकनीक से कंपोस्ट खाद में बदल कर 16 एकड़ दायरे में सिमट दिया गया है. इससे इसकी उंचाई 20 से 25 मीटर ऊंचे टीलों में हो गई है. वहीं, इन्हें मिट्टी की मोटी परत से ढंक दिया गया है. इस परत पर ही ग्रीनरी विकसित की जा रही है.

इसके ऊपर मिट्टी डलवाने के साथ ही हरियाली डेवलप की जाएगी
वहीं, बाकी के 20 एकड़ जमीन को नगर निगम द्वारा ग्रीन फील्ड में बदला जा रहा है. इसी जमीन के 12 एकड़ हिस्से में नगर निगम भोपाल के पहले गोल्फ कोर्स को बनाएगा. बता दें कि साल 1973-74 में बनी भानपुर खंती में 18 लाख मीट्रिक टन कचरा डंप था. इससे डेढ़ से दो किमी दायरे की हवा और पानी जहरीला हो गया था. दस साल लंबे विरोध के बाद 23 जनवरी 2018 को इसका साइंटिफिक क्लोजर शुरू हुआ. ये काम सूरत की कंपनी सौराष्ट्र इनवायरो प्रोजेक्ट प्रा.लि. को सौंपा गया. कंपनी ने ढाई साल में 36 एकड़ में डंप 18 लाख मीट्रिक टन कचरे के 80 फीसदी हिस्से को कंपोस्ट खाद में बदल दिया. अब खाली जमीन पर गोल्फ कोर्स बनेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज