अपना शहर चुनें

States

BHOPAL : राज्य चुनाव आयुक्त के संकेत के बाद MP में शुरू हुआ निकाय चुनाव का रण

MP की 407 में से 307 निकायों का कार्यकाल सितंबर 2020 में पूरा हो चुका है.
MP की 407 में से 307 निकायों का कार्यकाल सितंबर 2020 में पूरा हो चुका है.

BHOPAL : मध्य प्रदेश (MP) में नगरीय निकाय चुनाव में 1 साल की देरी हो चुकी है. राज्य निर्वाचन आयोग (ELECTION Commission) ने 27 दिसंबर को आदेश जारी कर कहा था कि चुनाव फरवरी 2021 में कराए जाएंगे. लेकिन कोरोना संक्रमण काल के कारण निकाय चुनाव को टाल दिया गया.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश (MP) में नगरीय निकाय चुनाव अप्रैल में हो सकते हैं. राज्य निर्वाचन आयुक्त बी पी सिंह के 3 मार्च 2021 को वोटर लिस्ट फाइनल होने के बाद निकाय चुनाव कराने की घोषणा के बाद सियासी हलचल तेज हो गई है. बीजेपी (BJP) और कांग्रेस (Congress) में निकाय और पंचायत चुनाव को लेकर तैयारियां तेज कर दी हैं.

नगरीय निकाय चुनाव को लेकर पहले ही प्रभारी नियुक्त कर चुकी कांग्रेस पार्टी ने अब पंचायत चुनाव की तैयारी भी शुरू कर दी है.पीसीसी ने अब पंचायत चुनाव के लिए प्रभारियों की नियुक्ति शुरू कर दी है. जिला स्तर पर प्रभारी नियुक्त किए जा रहे हैं, जो निकाय चुनाव के साथ पंचायत चुनाव की रिपोर्ट पीसीसी को सौंपेंगे.

पंचायत चुनाव पर नज़र
प्रदेश प्रभारी मुकुल वासनिक और सह प्रभारी सीपी मित्तल 28 से 30 जनवरी तक मंडला, डिंडोरी, अनूपपुर, शहडोल, उमरिया का दौरा कर निकाय और पंचायत चुनाव के लिए बैठक करेंगे. पूर्व मंत्री पी शर्मा का कहना है कांग्रेस पार्टी चुनाव के साथ ही पंचायत चुनाव की भी तैयारी कर रही है. इसके लिए पार्टी ने प्रभारी नियुक्त करना शुरू कर दिए हैं. ज्यादातर हिस्सों में प्रभारी नियुक्त हो चुके हैं, जो जल्दी अपनी रिपोर्ट पीसीसी चीफ को सौंपेंगे.
बीजेपी भी तैयार


बीजेपी ने भी अब अपनी तैयारी पर ध्यान देना शुरू कर दिया है. बीजेपी के नवनियुक्त पदाधिकारियों की बैठक 30 और 31 जनवरी को इंदौर में होने वाली है. जिसमें नगरीय निकाय चुनाव के साथ ही पंचायत चुनाव पर भी मंथन होगा.बीजेपी के प्रदेश मंत्री रजनीश अग्रवाल ने कहा इंदौर में होने वाली बैठक में आगामी चुनावों से सहित कई महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा होगी.

एक साल की देर
प्रदेश में नगरीय निकाय चुनाव में 1 साल की देरी हो चुकी है. राज्य निर्वाचन आयोग ने 27 दिसंबर को आदेश जारी कर कहा था कि चुनाव फरवरी 2021 में कराए जाएंगे. लेकिन कोरोना संक्रमण काल के कारण निकाय चुनाव को टाल दिया गया. प्रदेश में कुल 407 नगरीय निकायों में से 307 का कार्यकाल 25 सितंबर 2020 को खत्म हो चुका है. 8 निकायों का कार्यकाल जनवरी और फरवरी में पूरा हो रहा है. त्रिस्तरीय पंचायतों में पंच, सरपंच, जनपद सदस्य, जिला पंचायत सदस्यों का कार्यकाल मार्च 2021 में खत्म हो रहा है. नई 29 नई नगर परिषदों में भी चुनाव होना है. अब राज्य निर्वाचन आयोग ने अप्रैल में चुनाव कराए जाने के संकेत दिए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज