Assembly Banner 2021

शिवराज कैबिनेट की बैठक में लिए गए ये अहम फैसले, जानिए आपके लिए क्या है खास

शिवराज सरकार कोरोना के हालात पर नज़र रखे हुए है.

शिवराज सरकार कोरोना के हालात पर नज़र रखे हुए है.

Bhopal-कलेक्टर अविनाश लवानिया ने बताया कि भोपाल में बेड क्षमता 4 से 6 हजार है. वैक्सीन के लिए जागरुकता बढ़ाने का प्रयास किया जा रहा है

  • Share this:
भोपाल. बुधवार को भोपाल में हुई शिवराज कैबिनेट (Shivraj cabinet) की बैठक में कई अहम फैसलों पर मुहर लगी. मंत्रालय में वर्चुअल कैबिनेट की बैठक में कोरोना (Corona) की स्थिति की भी समीक्षा की गई. कैबिनेट में लिए गए फैसलों के मुताबिक वाणिज्य कर विभाग की बालाघाट में स्थित संपत्ति को करीब 8 करोड़ में बेचने को मंजूरी कैबिनेट ने दे दी. इसके साथ ही इंजीनियरिंग और पॉलीटेक्निक के शिक्षकों को सातवें वेतनमान की मंजूरी भी दी गयी है.

कैबिनेट ने दीनदयाल अन्त्योदय योजना के विस्तार को भी मंजूरी दी है. इसके लिए शहरी आजीविका मिशन का सभी निकायों में विस्तार किया जाएगा. पीएम आवास योजना में राज्यांश के प्रस्ताव को भी मंजूरी दी गयी है. कैबिनेट की बैठक के बाद सीएम ने मंत्रियों के साथ ही कोरोना की समीक्षा बैठक भी की. समीक्षा बैठक में सभी कलेक्टर, कमिश्नर, आईजी, एसपी, CMHO और मेडिकल कॉलेज के डीन भी जुड़े.

कोरोना के हालात की समीक्षा
कैबिनेट के बाद सीएम ने कोरोना की स्थिति की विस्तार से समीक्षा की. चर्चा की शुरुआत इंदौर से हुई. भोपाल के बारे में चर्चा में कलेक्टर अविनाश लवानिया ने बताया कि भोपाल में बेड क्षमता 4 से 6 हजार है. वैक्सीन के लिए जागरुकता बढ़ाने का प्रयास किया जा रहा है. कई धर्मगुरु सार्वजनिक तौर पर वैक्सीन लगवा चुके हैं. इससे अन्य लोग को प्रेरणा मिली है. भोपाल में मास्क न लगाने पर अब तक दस हजार लोगों के चालान किये जा चुके हैं. भोपाल में 171 जगह वैक्सीनेशन हो रहा है. सीएम ने हमीदिया सहित सभी केंद्रों में वैक्सीन लगाने के काम में तेजी लाने के लिए कहा. मुख्यमंत्री ने कहा इंदौर, भोपाल, जबलपुर, खरगोन की स्थिति से वे चिंतित हैं. इन स्थानों पर कुछ माइक्रो कंटनमेंट जोन बनाकर नियंत्रण करें. जिले अन्य उपयोगी सुझाव दें. संक्रमण को हर हाल में रोकना है. क्राइसेस मैनेजमेंट ग्रुप के सदस्यों से चर्चा कर निर्णय लें. सीएम की बैतूल, ग्वालियर जिलों से भी चर्चा हुई.



किन जिलों में क्या हुई चर्चा ?
रतलाम कलेक्टर से भी सीएम ने चर्चा की. कलेक्टर ने बताया कि रेलवे प्रशासन से यात्रियों को मोबाइल फोन के ज़रिए जागरुकता संदेश दे रहा है. बाहर से आए रेल यात्रियों को फोन कर आइसोलेट रहने के लिए कहा जा रहा है. धार जिले में की गई व्यवस्थाओं की जानकारी भी सीएम को दी गई. मास्क के प्रयोग को बढ़ावा देने जागरूकता लाने का प्रयास लगातार किया जा रहा है. महाराष्ट्र सीमा से लगे जिले छिंदवाड़ा के बारे में जानकारी के दौरान बताया गया कि मास्क न लगाने पर 6401 स्पॉट फाइन किये गए. कलेक्टर सागर ने बताया बीएमसी के अलावा चार निजी अस्पताल में बेड की व्यवस्था की गई है. जो मरीज यहां मिले हैं उनमें से अस्सी प्रतिशत जिला मुख्यालय के ही केस हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज