अपना शहर चुनें

States

MP कांग्रेस और गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा के बीच चला शेर-ओ-शायरी का दौर, आप भी लीजिए मज़ा

कांग्रेस और नरोत्तम मिश्रा के बीच ट्विटर पर जवाब का लंबा दौर चला
कांग्रेस और नरोत्तम मिश्रा के बीच ट्विटर पर जवाब का लंबा दौर चला

BHOPAL-MPCC और गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा के बीच चले दिलचस्प ट्विटर वॉर का आनंद नेताओं के साथ जनता ने भी खूब लिया.

  • Share this:
भोपाल.मध्य प्रदेश (MP) के सियासी गलियारों में मंगलवार को शायरी ट्विटर वॉर की खूब चर्चा रही.यह ट्विटर वॉर कांग्रेस और मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा के बीच हुआ.दोनों के ट्विटर हैंडल से लगातार एक दूसरे को बैंतबाज़ी के अंदाज़ में जवाब दिये जाते रहे.

एक बार कांग्रेस के ट्विटर हैंडल से शुरू हुई सियासी तकरार इतनी आगे बढ़ी कि दोनों तरफ से एक के बाद एक शेर ओ शायरी के जरिए सियासी तंज कसने का लंबा दौर चला. मध्य प्रदेश के सियासी गलियारों में इसकी दूर-दूर तक चर्चा रही और सबने इसका मज़ा लिया.

हुआ ये था
कांग्रेस के ट्विटर हैंडल के ज़रिए बीजेपी सरकार पर तंज कसता हुआ एक शेर ट्वीट किया गया.उसमें लिखा था-
विधायक ख़रीदकर सरकार गिराते हैं 


वो कुछ यूं लोकतंत्र की हत्या कर जाते हैं.

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने जवाब देते हुए लिखा-
अपने अहंकार की आग से खुद का घर जलाते हैं
वो इसी तरह हर बार हम पर इल्जाम लगाते हैं.

कांग्रेस ने ट्विटर पर फिर इसका जवाब दिया
बिकने को बाजार में सब बिकता है ग़ालिब
तू खरीदकर हुनर अपना ताक पर न रख

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने की ओर से इसका भी जवाब दिया गया-
रसातल में पहुंचकर भी अहंकार जताते हैं
जो कभी फूल थे इनके आज उन्हें कचरा बताते हैं.

इसके बाद भी शायरी का ये दौर जारी रहा. कांग्रेस ने फिर ट्वीट करते हुए शेर लिखा-
मज़बूत धरा को रसातल बताते हो
खरीदे पंखों से इतना कैसे उड़ पाते हो,
कहीं न तुमको समंदर बहा ले जाय,
टूटी कश्तियाँ क्यों गहराई में लाते हो.

इस पर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा की ओर जवाब आया
एक परिवार से ऊपर कभी सोच नहीं पाते हो,
परिवारशाही को ही मज़बूत धरा बताते हो,
डूब रहीं कश्तियां कहीं आप भी न डूब जाओ,
जिसके साथ सारा देश आप उसे ही डराते हो !
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज