Home /News /madhya-pradesh /

कोरोना आपदा की समीक्षा के लिए सरकार ने निकाला नया फॉर्मूला, A B C ग्रुप में बांटे गए जिले 

कोरोना आपदा की समीक्षा के लिए सरकार ने निकाला नया फॉर्मूला, A B C ग्रुप में बांटे गए जिले 

ए ग्रुप में 18 जिले जबकि बी ग्रुप में 16 जिले और सी ग्रुप में 18 जिलों को शामिल किया गया है

ए ग्रुप में 18 जिले जबकि बी ग्रुप में 16 जिले और सी ग्रुप में 18 जिलों को शामिल किया गया है

Bhopal. एक साथ सभी 52 जिलों की समीक्षा में कई तरह की परेशानियां सामने आ रही थीं. इसी को देखते हुए सरकार ने अब यह तय किया है कि जिले ग्रुप में बांटकर उनकी समीक्षा की जाएगी.

भोपाल. कोरोना (Corona) आपदा की समीक्षा के लिए मध्य प्रदेश सरकार ने अब एक नया फॉर्मूला बनाया है. अब सभी जिलों की समीक्षा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एक साथ नहीं करेंगे. समीक्षा के लिए प्रदेश के सभी 52 जिलों को तीन अलग-अलग ग्रुप में बांट दिया गया है. यह तीन ग्रुप ए बी और सी कैटेगरी में बनाए गए हैं.

ए ग्रुप में 18 जिले जबकि बी ग्रुप में 16 जिले और सी ग्रुप में 18 जिलों को शामिल किया गया है. इस कवायद के पीछे सरकार की कोशिश प्रदेश में कोरोना की स्थिति की बेहतर और सटीक समीक्षा करना है. अभी एक साथ सभी 52 जिलों की समीक्षा में कई तरह की परेशानियां सामने आ रही थीं. इसी को देखते हुए सरकार ने अब यह तय किया है कि जिले ग्रुप में बांटकर उनकी समीक्षा की जाएगी. ग्रुप ए के 18 जिलों की समीक्षा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बुधवार शाम 4:00 बजे करेंगे.



ग्रुप A में शामिल जिले
इंदौर, उज्जैन, रतलाम, टीकमगढ़, धार, अनूपपुर, झाबुआ नीमच, देवास, निवाड़ी, मंदसौर, खरगोन, शाजापुर, आगर मालवा, अलीराजपुर, बड़वानी, खंडवा, बुरहानपुर.

ग्रुप B में शामिल जिले
भोपाल, ग्वालियर, बैतूल, दतिया, विदिशा, सीहोर, मुरैना शिवपुरी, होशंगाबाद, अशोक नगर, रायसेन, राजगढ़, गुना हरदा, श्योपुर, भिंड को बी ग्रुप में शामिल किया गया है.

ग्रुप C में शामिल जिले
जबलपुर, रीवा, नरसिंहपुर, सिंगरौली, सीधी, पन्ना, सतना सागर, शहडोल, कटनी, छतरपुर, सिवनी, मंडला, बालाघाट उमरिया, डिंडोरी, छिंदवाड़ा और दमोह जिला शामिल.

Tags: Bhopal corona, CM Shivraj Singh Chauhan, Corona crisis, Corona infected patients

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर