अपना शहर चुनें

States

MP विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर ने उठाई मांग, ईदगाह हिल्स का नाम गुरुनानक टेकरी किया जाए 

रामेश्वर शर्मा ने गुरुनानक देव के भोपाल प्रवास का उल्लेख किया.
रामेश्वर शर्मा ने गुरुनानक देव के भोपाल प्रवास का उल्लेख किया.

कांग्रेस (Congress) ने कहा-रामेश्वर शर्मा एक विधायक (MLA) भी हैं. उन्हें अपने विधानसभा क्षेत्र में पानी सड़क जैसी समस्याओं पर ध्यान देना चाहिए. लेकिन इन मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए वह वो सभी बात कर रहे हैं जो उनके अधिकार क्षेत्र के बाहर की है.

  • Share this:
भोपाल.ऐतिहासिक जगहों और शहरों के नाम बदलने की सियासत के बीच मध्य प्रदेश (MP) विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने एक और मांग उठा दी है. सोमवार को गुरुनानक जयंती के मौके पर  रामेश्वर शर्मा ने मांग की है कि भोपाल की पॉश कॉलोनी ईदगाह हिल्स का नाम बदलकर गुरु नानक (Gurunanak jayanti) टेकरी कर देना चाहिए. शर्मा ने इसके पीछे तर्क दिया है कि करीब 500 साल पहले गुरु नानक देव जब भारत भ्रमण पर निकले थे  तो भोपाल में इसी टेकरी पर आए थे. यही वजह है कि इसका नाम गुरुनानक टेकरी होना चाहिए क्योंकि तब ईदगाह हिल्स जैसा कोई स्थान नहीं था. शर्मा राजधानी भोपाल में विधानसभा के कर्मचारियों के लिए बनने वाले आवास प्रोजेक्ट का भूमि पूजन करने आए थे.

 योगी आदित्यनाथ ने उठायी हैदराबाद का नाम बदलने की मांग
इससे पहले उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपने एक बयान में कहा था कि कुछ लोग मुझसे पूछ रहे थे कि क्या हैदराबाद का नाम बदलकर भाग्यनगर किया जा सकता है.मैंने कहा- क्यों नहीं किया जा सकता ? योगी आदित्यनाथ के मुताबिक मैंने उनसे कहा कि बीजेपी के सत्ता में आने के बाद हमने फैजाबाद का नाम अयोध्या और इलाहाबाद को प्रयागराज नाम दिया, तो भाग्यनगर के रूप में हैदराबाद का नाम क्यों नहीं बदला जा सकता.

कांग्रेस ने कहा-अपने क्षेत्र के विकास पर ध्यान दें शर्मा
प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा की ओर से इस मांग के उठाए जाने के बाद अब इस पर सियासत भी शुरू हो गई है. एक तरफ जहां बीजेपी यह कह रही है कि रामेश्वर शर्मा की मांग पर विचार किया जा सकता है तो वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस ने रामेश्वर शर्मा को आड़े हाथ ले लिया है. कांग्रेस प्रवक्ता अजय यादव के मुताबिक रामेश्वर शर्मा एक विधायक भी हैं. उन्हें अपने विधानसभा क्षेत्र में पानी सड़क जैसी समस्याओं पर ध्यान देना चाहिए. लेकिन इन मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए वह वो सभी बात कर रहे हैं जो उनके अधिकार क्षेत्र के बाहर की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज