पांचवीं पास परिवार ने प्रधानमंत्री योजना के नाम पर देश भर के लोगों ठग लिया

गिरोह दैनिक समाचार पत्रों में प्रधानमंत्री योजना के नाम पर विज्ञापन देता था.
गिरोह दैनिक समाचार पत्रों में प्रधानमंत्री योजना के नाम पर विज्ञापन देता था.

गिरोह (Gang) के सदस्य एक ही परिवार के हैं और सभी मध्यप्रदेश (MP) के शिवपुरी जिले के रहने वाले हैं. गैंग के तीन तीन सदस्यों को गिरफ्तार किया गया है. इनके नाम सुरेश राजपूत, संजू राजपूत और ब्रजपाल राजपूत हैं.

  • Share this:
भोपाल.पांचवी पास गिरोह ने प्रधानमंत्री योजना के नाम पर देश भर के लोगों को ठग (Thug) लिया. गिरोह के सदस्य एक ही परिवार के हैं. यह गिरोह 2 साल से प्रधानमंत्री योजना का लोन (Loan) दिलाने के नाम पर लोगों को ठग रहा था. स्टेट साइबर सेल ने इनका पर्दाफाश किया. गिरोह के सदस्य खुद को माइक्रो फाइनेंस कंपनी का कर्मचारी बताते थे. आरोपी समाचार पत्रों में लोन दिलाने के नाम पर फर्जी विज्ञापन देते थे.

गिरोह ने दो साल में लाखों की ठगी की
गिरोह के सदस्य एक ही परिवार के हैं और सभी मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले के रहने वाले हैं. गैंग के तीन तीन सदस्यों को गिरफ्तार किया गया है. इनके नाम सुरेश राजपूत, संजू राजपूत और ब्रजपाल राजपूत हैं.


समाचार पत्रों में  विज्ञापन


सायबर पुलिस भोपाल के पुलिस अधीक्षक डॉ. गुरकरन सिंह ने बताया कि गिरोह का मास्टर माइंड सुरेश राजपूत प्रधान मंत्री योजना का लोन दिलाने का विज्ञापन समाचार पत्रों में देता था. इसे देखकर लोग इनसे संपर्क करते थे और इनके जाल में फंस जाते थे.सुरेश राजपूत अपने परिवार के सदस्य संजू राजपूत और ब्रजपाल राजपूत के साथ मिलकर लोगों को ठग रहा था.

फाइनेंस कंपनी का कर्मचारी
इस गिरोह ने देश के कई प्रदेशों में अलग-अलग जगह किराये पर कमरे लेकर ऑफिस खोल रखे थे. गिरोह दैनिक समाचार पत्रों में प्रधानमंत्री योजना के नाम पर विज्ञापन देता था. फिर लोन दिलाने के लिए SMS करता था. गिरोह के लोग स्वयं को माइक्रो फाइनेंस कंपनी का कर्मचारी बताते हुए मैसेज में अपना संपर्क नंबर भेजते थे. लोन लेने के इच्छुक लोग इनसे संपर्क करते थे. फिर ये गिरोह लोगों का खाता खुलवाकर उन खातों में पैसे जमा करवा लेते थे.

2 साल में 10 से ज्यादा स्टेट में वारदात
गिरोह ने प्रधान मंत्री योजना के नाम पर पिछले दो साल में जाने कितने लोगों से लाखों रुपए ठग लिए. गिरोह ने देश के लगभग 10 से अधिक प्रदेशों में लोगों को अपने झांसे में लाकर ठगा. तीनों आरोपी अब पुलिस की रिमांड पर हैं. आरोपियों से प्रदेश के साथ दूसरे स्टेट में हुई ठगी की वारदातों के बारे में पूछताछ कर तमाम जानकारी जुटाई जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज