Home /News /madhya-pradesh /

100 करोड़ का लालच देने के आरोप पर भड़की BJP, दिग्विजय को बताया गप्प मारने वाला नेता!

100 करोड़ का लालच देने के आरोप पर भड़की BJP, दिग्विजय को बताया गप्प मारने वाला नेता!

File Photo- Digvijay

File Photo- Digvijay

मध्य प्रदेश की राजनीतिक सरगर्मी तेज हो गई है. एक ओर जहां विधानसभा सत्र की कार्यवाही चल रही है वहीं नेताओं के बीच दिग्विजय सिंह के इस आरोप पर जुबानी जंग भी तेज हो गई है कि, 'शिवराज कुर्सी के लालची हैं और विधायकों को 100 करोड़ का लालच दे रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...
    मध्य प्रदेश की राजनीतिक सरगर्मी तेज हो गई है. एक ओर जहां विधानसभा सत्र की कार्यवाही चल रही है वहीं नेताओं के बीच दिग्विजय सिंह के इस आरोप पर जुबानी जंग भी तेज हो गई है कि, 'शिवराज कुर्सी के लालची हैं और विधायकों को 100 करोड़ का लालच दे रहे हैं. दिग्विजय सिंह के आरोप के बाद बीजेपी ने पलटवार किया है. बीजेपी ने उन्हें गप्प मारने वाला नेता बताया है.

    बीजेपी नेता नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि दिग्विजय सिंह के पास प्रमाण हो तो कानूनी कार्रवाई करें, वहीं नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने दिग्विजय सिंह को गप्प मारने वाले नेता बताया है. उन्होंने दिग्विजय सिंह के आरोप और 100 करोड़ में डील को बेबुनियादी बात बताया है. बता दें कि दिग्विजय सिंह ने शिवराज सिंह चौहान पर आरोप लगाया है कि दिग्विजय सिंह चौहान कुर्सी के लालची हैं. दिग्विजय सिंह ने नरोत्तम मिश्रा, विश्वास सारंग पर भी आरोप लगाया है.

    दिग्विजय सिंह ने आरोप लगाया कि नरोत्तम मिश्रा और विश्वास सारंग विधायकों की किडनैपिंग की कोशिश कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि ये दोनों भाजपा नेता विधायक वैजनाथ कुशवाह को किडनैप करने की कोशिश कर रहे हैं. वे 100 करोड़ का लालच दे रहे हैं. दिग्विजय ने दावा किया कि नरोत्तम मिश्रा और विश्वास सारंग के खिलाफ उनके पास सबूत हैं.

    यह पढ़ें- कुर्सी के लालची हैं शिवराज, विधायकों को दे रहे 100 करोड़ का लालच: दिग्विजय सिंह

    Tags: Bhopal news, BJP, Congress, Digvijay singh, Madhya pradesh news, Shivraj singh chouhan

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर