होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /ई-टेंडरिंग घोटाले में FIR: बीजेपी नेता बोले- कोर्ट में ले जाएंगे मामला!

ई-टेंडरिंग घोटाले में FIR: बीजेपी नेता बोले- कोर्ट में ले जाएंगे मामला!

File Photos

File Photos

प्रदेश की सियासत ई-टेंडर घोटाले की वजह से गरम हो गई है. कांग्रेस सरकार द्वारा मामले में एफआईआर दर्ज करने के बाद बीजेपी ...अधिक पढ़ें

    लोकसभा चुनावों के बीच मध्य प्रदेश की सियासत ई-टेंडर घोटाले की वजह से गरम हो गई है. कांग्रेस सरकार द्वारा मामले में एफआईआर दर्ज करने के बाद बीजेपी ने सरकार पर हमला बोला है. नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कहा है कि अगर कांग्रेस सरकार ने झूठे प्रकरण बनाए तो हम मामले को कोर्ट में ले जाएंगे.

    आयकर छापे पर को एक सामान्य प्रक्रिया बताते हुए गोपाल भार्गव ने कहा कि कांग्रेस सरकार बदले की भावना से कोई काम ना करे. नहीं तो हम मामले को कोर्ट में लेकर जाएंगे. (इसे पढ़ें- शिवराज सरकार के दौरान हुए ई-टेंडरिंग घोटाले में 5 अफसरों के खिलाफ FIR)

    मध्य प्रदेश में शिवराज सरकार के दौरान हुए ई-टेंडरिंग घोटाले में 5 विभागों के अधिकारियों और तत्कालीन ज़िम्मेदार नेताओं के खिलाफ भोपाल में एफआईआर दर्ज कराई गई है. जल निगम, लोकनिर्माण विभाग, पीआईयू, रोड डेवलेपमेंट और जल संसाधन विभाग पर टेंडर में गड़बड़ी के आरोप लगे हैं. इन मामलों में 7 कंपनियों पर फर्जीवाड़ा कर टेंडर लेने का आरोप है.

    दर्ज एफआईआर में लिख गया है, "अज्ञात नौकरशाहों और राजनेताओं के खिलाफ आरोप हैं." बुधवार (10 अप्रैल) को हुई इस कार्रवाई को हाल ही में सीएम कमलनाथ के करीबियों पर पड़े आयकर छापों का एमपी सरकार की तरफ से जवाब माना जा रहा है.

    जानकारी के अनुसार ई-टेंडर घोटाला करीब तीन हजार करोड़ का है. पीएचई और पीडब्ल्यूडी में टेंडर हासिल करने में गड़ब़ड़ी सामने आई थी. इस पूरे मामले की जांच भी चल रही है. ई-टेंडरिंग घोटाले के साथ ही व्यापम घोटाला, एमसीयू में गड़ब़ड़ी का मामला और सांसद निधि के उपयोग में गड़बड़ी के मामलों की भी जांच चल रही है. इन मामलों में कार्रवाई को लेकर कांग्रेस अब आक्रामक रुख अपना रही है.

    यह भी पढ़ें- बीजेपी का हमला, 'गुना सीट को अपना पट्टा समझते हैं ज्योतिरादित्य सिंधिया'

    Tags: Bhopal news, Kamalnath, Madhya Pradesh Lok Sabha Elections 2019, Madhya pradesh news

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें