लाइव टीवी

दो दिन में दो बार CM कमलनाथ से मिले बीजेपी MLA, फिर पार्टी पर निकाली भड़ास
Bhopal News in Hindi

Ranjana Dubey | News18 Madhya Pradesh
Updated: March 17, 2020, 7:20 PM IST
दो दिन में दो बार CM कमलनाथ से मिले बीजेपी MLA, फिर पार्टी पर निकाली भड़ास
दो दिन में दो बार CM कमलनाथ से मिले बीजेपी MLA

बीजेपी विधायक ने कहा-क बहुमत की सरकार को गिराने की कोशिश की जा रही है.यह जो कुछ भी हो रहा है वो संविधान की हत्या है.लोकतंत्र की हत्या करने की कोशिश की जा रही है

  • Share this:
भोपाल. बीजेपी विधायक (BJP MLA) नारायण त्रिपाठी फिर कांग्रेस (Congress) का साथ देते दिख रहे हैं. क्या, अगर फ्लोर टेस्ट हुआ तो फिर पहले की तरह पार्टी लाइन से अलग जाकर कांग्रेस के पक्ष में क्रॉस वोटिंग करेंगे. वो दो दिन में दो बार सीएम कमलनाथ (cm kamalnath) से मिल चुके हैं. राजनीति की मौजूदा सरगर्मी के बीच उनकी इन मुलाकातों पर सबकी नज़र है.

मैहर से बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी को लेकर ये सवाल इसलिए क्योंकि मप्र में जारी सियासी संकट के बीच उन्होंने फिर से अपनी ही पार्टी के खिलाफ आवाज बुलंद की है. मप्र में कांग्रेस सरकार को अस्थिर करने की कोशिशों को लेकर नारायण त्रिपाठी खुलकर अपनी ही पार्टी के खिलाफ बोल रहे हैं. उन्होंने आज कहा एक बहुमत की सरकार को गिराने की कोशिश की जा रही है.यह जो कुछ भी हो रहा है वो संविधान की हत्या है.लोकतंत्र की हत्या करने की कोशिश की जा रही है.सरकार के पास बहुमत है.ऐसा ही चलता रहा तो कोई व्यक्ति चुनाव ही नहीं लड़ेगा.चुनाव लड़ना बंद हो जाएगा. उन्होंने बीजेपी की ओर इशारा करते हुए कहा आप अपने आप अपनी सरकार बना लो.

CM से फिर मिले भाजपा विधायक 
फ्लोर टेस्ट कराने को लेकर मामला सुप्रीम कोर्ट में पहुंच गया है. बुधवार को फिर से सुनवाई है.इसी बीच भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी ने मुख्यमंत्री कमलनाथ से मंगलवार को फिर से मुलाकात की. सीएम हाउस में करीब एक घंटे तक उन्होंने सीएम कमलनाथ से चर्चा की. बाहर निकलते ही उनके तीखे तेवर देखने को मिले.न्यूज18 से बातचीत में त्रिपाठी ने कहा सरकार गिराने की जो कोशिश की जा रही है वो गलत है.ऐसे में लोगों का भरोसा व्यवस्था से उठ जाएगा. कोई चुनाव मैदान में नहीं उतरेगा.



सीएम हाउस में बैठकों का दौर


सीएम हाउस में बैठकों का दौर जारी है.आज फिर बैठक हुई. इसमें पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह, पर्यवेक्षक हरीश रावत,मुकुल वासनिक,पीडब्यूडी मंत्री सज्जन सिंह वर्मा, नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धन सिंह शामिल हुए. सबने मौजूदा सियासी घटनाक्रम पर विचार किया. बाद में दिग्विजय सिंह ने कहा सरकार अविश्वास प्रस्ताव का सामना करने के लिए तैयार है. उन्होंने सवाल किया कि 16 विधायक बेंगलुरू में क्या कर रहे हैं. उन लोगों ने जो बयान प्रेस कॉफ्रेस में दिए हैं, वो दबाव में दिए गए हैं. हमने कोर्ट से अपील की है कि उन्हें वापस लाया जाए.

ये भी पढ़ें-

विधानसभा PS ने कहा-प्रस्ताव मिला तो 24 घंटे के अंदर हो सकता है फ्लोर टेस्ट

CM कमलनाथ ने राज्यपाल को फिर लिखी चिट्ठी, कहा-बंधक विधायकों को आज़ाद किया जाए
First published: March 17, 2020, 7:08 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading