• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • 'जोधाबाई-अकबर में नहीं था प्रेम', BJP विधायक रामेश्वर शर्मा के विवादित बयान पर बवाल

'जोधाबाई-अकबर में नहीं था प्रेम', BJP विधायक रामेश्वर शर्मा के विवादित बयान पर बवाल


विधायक रामेश्वर शर्मा की टिप्पणी से राजपूत समाज नाराज

विधायक रामेश्वर शर्मा की टिप्पणी से राजपूत समाज नाराज

राजपूत समाज के खिलाफ राजस्थान के वरिष्ठ बीजेपी नेता गुलाब चंद कटारिया की टिप्पणी बमुश्किल ठंडी पड़ी है कि अब भोपाल के बीजेपी विधायक रामेश्वर शर्मा ने अकबर-जोधा प्रेम कहानी की बात करते-करते जोधा पर आपत्तिजनक टिप्पणी कर दी. जिससे राजपूत समाज में खासा आक्रोश है. उन्होंने सागर के कार्यक्रम में पूछ लिया क्या जोधा और अकबर के बीच I Love You ..था.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    भोपाल. भोपाल के बीजेपी विधायक रामेश्वर शर्मा (BJP MLA Rameshwar Sharma) के जोधाबाई के अकबर (Akbar and Jodhabai) से शादी करने को लेकर दिये बयान पर बवाल मचा है. शर्मा ने सागर में रविवार को हिंदुत्व धर्म संवाद कार्यक्रम में जोधा-अकबर की प्रेम कहानी (Love story) पर बोलते हुए कहा कि उन लोगों से सावधान रहो जो सत्ता पाने के लिए अपनी बेटी को दावं पर लगा दें. जो तुम्हारे हैं पर धर्म को धोखा दे सकते हैं. ऐसे लुटेरों से सावधान (Attention) रहो.

    बीजेपी विधायक के इस बयान पर राजपूत समाज ने खासा विरोध जताया. समाज ने कहा कि बीजेपी विधायक को माफी मांगनी चाहिए. हांलाकि बाद में बवाल मचने पर विधायक रामेश्वर शर्मा ने माफ़ी भी माँग ली.

    रविवार को सागर के रविन्द्र भवन में ‘हिंदुत्व धर्म संवाद’ कार्यक्रम में रामेश्वर शर्मा ने कहा, “अकबर से जोधाबाई का रिश्ता किसने किया? उनके बीच कोई प्रेम नहीं था. कोई I Love You .. नहीं था. जोधाबाई और अकबर में क्या कोई लव था ? मोहब्बत थी ? कॉलेज में साथ पढ़े थे ? कहीं मिले थे ? कॉफी हाऊस में या जिम में ? जब लोग सत्ता के लोभी हो जायें और सत्ता के लिये बेटी को दांव पर लगा दें तो ऐसे लुटेरों से भी सावधान रहो. ये तुम्हारे हैं, लेकिन धर्म को धोखा दे सकते हैं.”

    महाराणा प्रताप और चौहान हमारे प्रेरणास्रोत्र
    विधायक के इस विवादित टिप्पणी का वीडियो सामने आने के बाद विवाद मचना ही था. राजपूत समाज की ओर से इसका पुरजोर विरोध किया गया. तब जाकर बीजेपी विधायक को अपनी गलती का अहसास हुआ. वीडियो वायरल होने के बाद सफाई देते हुए शर्मा ने कहा कि राजपूत समाज शुरू से हिंदुत्व का रक्षक रहा है. आदिकाल से आज तक क्षत्रिय वीरों की गाथाएं देश को गौरवान्वित करती रही है. सदैव हिंदुत्व के रक्षक महाराणा प्रताप और पृथ्वीराज चौहान की वीर गाथाओं का गौरव गान करता रहा हूं.

    BSP MLA रामबाई ने दिया ग्रामीणों को ज्ञान, ‘1 हजार तक की रिश्वत लेने में कोई बुराई नहीं’

    माफी मांगी, बोले- सौ बार झुकने को तैयार
    उन्होंने कहा कि इतिहास में भले ही अकबर को महान बताया गया हो, लेकिन मेरे लिए अकबर नहीं महाराणा प्रताप महान हैं. शर्मा ने कहा कि मैं राजपूत समाज पर उंगली उठा ही नहीं सकता. मेरा उद्देश्य मुगलों की चालाकी और फूट-नीति का उल्लेख करना था. महाराणा प्रताप, वीर शिवाजी और पृथ्वीराज चौहान तो हमारे प्रेरणास्रोत्र हैं. लेकिन फिर भी मेरे किसी शब्द से राजपूत हिंदू भाई को किंचित मात्र भी ठेस पहुंची हो तो मैं 100 बार आपके सामने झुकने को तैयार हूं और आपसे इसके लिए क्षमा चाहता हूं.

    कटारिया की भी फिसली थी जुबान, मांगी माफी
    इसी साल अप्रैल में उपचुनाव से पहले राजस्थान बीजेपी के वरिष्ठ नेता की गुलाबचंद कटारिया की महाराणा प्र​ताप को लेकर जुबान फिसल गई थी. इसका राजपूत समाज ने तीखा विरोध किया. राजस्थान में कई जगह समाज के लोगों ने प्रदर्शन किया. बाद में कटारिया को अपने बयान को लेकर माफी मांगनी पड़ी. उन्होंने सोशल मीडिया पर कहा कि उनके शब्दों से किसी को ठेस पहुंची है तो वे हाथ जोड़कर माफी मांगते हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज