लाइव टीवी

कमलनाथ सरकार के ख़िलाफ BJP का किसान आक्रोश आंदोलन, धक्का-मुक्की और गिरफ़्तारी

News18 Madhya Pradesh
Updated: November 4, 2019, 3:55 PM IST
कमलनाथ सरकार के ख़िलाफ BJP का किसान आक्रोश आंदोलन, धक्का-मुक्की और गिरफ़्तारी
मध्य प्रदेश में बीजेपी का कमलनाथ सरकार के खिलाफ किसान आक्रोश आंदोलन

गोपाल भार्गव (gopal bhargav) ने कहा-सरकार जनता का विश्वास खो चुकी है.यदि आज चुनाव होते हैं तो कांग्रेस (congress) 30 सीटें भी नहीं जीत पाएगी. उन्होंने कहा अगर कांग्रेस 30 सीट भी जीत गयी तो मैं राजनीति से सन्यास ले लूंगा.

  • Share this:
भोपाल. बिजली बिलों (electricity bill) में गड़बड़ी के मुद्दे पर बीजेपी (BJP) ने पूरे प्रदेश में जिला मुख्यालयों पर कमलनाथ सरकार (kamalnath government) के ख़िलाफ प्रदर्शन किया. हर तरफ हंगामे के बीच प्रदर्शन हुआ. कहीं सीएम कमलनाथ (cm kamalnath) का पुतला जलाने की कोशिश की गयी तो कहीं पुलिस (police) से धक्का-मुक्की और कार्यकर्ताओं की गिरफ़्तारी हुई. बीजेपी के बड़े नेताओं ने अलग-अलग शहरों में प्रदर्शन की कमान संभाली थी.उज्जैन  में कैलाश विजयवर्गीय की गिरफ्तारी से नाराज भाजपा कार्यकर्ताओं ने पुलिस की पायलट गाड़ी में तोड़फोड़ कर दी.
अख़बारों की प्रतियां जलायीं
बिजली बिलों (electricity bill) में गड़बड़ी के खिलाफ हुए आंदोलन में भोपाल की कमान नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव संभाले थे. यहां कार्यकर्ताओं ने बिजली बिलों और अख़बारों की होली जलाई. गोपाल भार्गव ने कहा-सरकार जनता का विश्वास खो चुकी है.यदि आज चुनाव होते हैं तो कांग्रेस 30सीटें भी नहीं जीत पाएगी. उन्होंने कहा अगर कांग्रेस 30सीट भी जीत गयी तो मैं राजनीति से सन्यास ले लूंगा.
पुलिस से धक्का-मुक्की

जबलपुर में भाजपा के किसान आक्रोश आंदोलन के दौरान कार्यकर्ताओं ने कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया. ये लोग कलेक्ट्रेट का घेराव करने आ रहे थे. लेकिन पुलिस ने उन्हें घंटाघर चौराहे पर रोक लिया. इस दौरान कार्यकर्ताओं और पुलिस में धक्का-मुक्की हुई. कार्यकर्ताओं ने यहां बिजली के बिल जलाकर गिरफ़्तारी दी.
ताई की चेतावनी
इंदौर में प्रदर्शन की कमान ताई यानि सुमित्रा महाजन के हाथ में थी. उन्होंने कांग्रेस सरकार को चेतावनी दी कि ऐसे नहीं चलेगा.अधिकारियों से बोलो कि पैसा कमाने का तरीका न निकालें.लोगों के बिजली बिल कम करें. महाजन ने कहा-मंत्री और जिम्मेदार लोग भोपाल में बैठकर आदेश ना देकर क्षेत्र में जाएं.किसानों की फसल का मुआवज़ा सरकार दे.
Loading...

बुरहानपुर में प्रदेश सरकार की वादाखिलाफी को लेकर भाजपा ने किसान जनाक्रोश आंदोलन किया. इसमें पूर्व मंत्री कुंवर विजय शाह, अर्चना चिटनिस शामिल हुए. कलेक्टर कार्यालय के सामने बीजेपी ने धरना दिया.
पुतला जलाने की कोशिश
उज्जैन में कमलनाथ सरकार के खिलाफ बीजेपी का धरना प्रदर्शन हुआ. यहां मुख्यमंत्री कमलनाथ का पुतला जलाने आए बीजेपी के कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच जमकर धक्का मुक्की हुई.
कलेक्ट्रेट परिसर में धारा 144
मंदसौर में भाजपा ने बाढ़ पीड़ितों को मुआवज़ा,बिजली बिल,कर्जमाफी के मुद्दे को लेकर प्रदेश सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया. यहां प्रदर्शनकारियों का नेतृत्व पूर्व मंत्री मनोहर ऊंटवाल कर रहे थे. कलेक्टर कार्यालय परिसर में धारा 144 लागू थी.
खंडवा में पूर्व विधायक सुदर्शन गुप्ता के नेतृत्व में आंदोलन किया गया. लेकिन यहां मुट्ठी भर कार्यकर्ता ही आंदोलन में शामिल हुए.
विधायक ने बनायी दूरी
सीधी में भाजपा के किसान आक्रोश आंदोलन से विधायक केदारनाथ शुक्ला ने दूरी बनाए रखी.झाबुआ उपचुनाव के बाद विधायक केदारनाथ शुक्ला ने प्रदेश अध्यक्ष पर आरोप लगाया था. अनुपपुर जिले के विधायक रामलाल रौतेल के अगुआई में सीधी में आंदोलन होना था लेकिन वो भी नहीं पहुंचे.
गेट पर धरना
बैतूल में भाजपा कार्यकर्ताओं ने कलेक्ट्रेट गेट पर जमकर हंगामा किया.पुलिस ने भाजपा कार्यकर्ताओं को अंदर घुसने से रोका तो उन्होंने बैरिकेड्स तोड़कर अंदर घुसने की कोशिश की. इस दौरान उनकी पुलिस के साथ धक्का-मुक्की हुई. गुस्साए कार्यकर्ता गेट पर ही धरना देकर बैठ गए.

ये भी पढ़ें-हनीट्रैप : आरोपी महिलाओं के जाल में फंसी थीं 6 और छात्राएं

मंत्री जीतू पटवारी ने पूर्व CM शिवराज के लिए कहा कि चूल्लु भर पानी में डूब मरे

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 4, 2019, 3:51 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...