भोपालः उत्तर विधानसभा सीट से BJP ने फातिमा रसूल को उतारा, दिलचस्प हुआ मुकाबला

फातिमा के पिता रसूल अहमद सिद्दीक़ी 90 के दशक में भोपाल उत्तर सीट से 2 बार कांग्रेस विधायक रह चुके हैं. 1992 में आरिफ अकील ने निर्दलीय चुनाव लड़कर उन्हें हरा दिया और फिर कांग्रेस में शामिल हो गए. पिता की हार का बदला लेने के लिए फातिमा बीजेपी के टिकट पर मैदान में उतरी हैं.

Manoj Rathore | News18 Madhya Pradesh
Updated: November 9, 2018, 3:23 PM IST
भोपालः उत्तर विधानसभा सीट से BJP ने फातिमा रसूल को उतारा, दिलचस्प हुआ मुकाबला
फातिमा रसूल, बीजेपी प्रत्याशी
Manoj Rathore | News18 Madhya Pradesh
Updated: November 9, 2018, 3:23 PM IST
मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल की उत्तरी सीट पर बीजेपी ने बड़ा दांव खेलते हुए फातिमा रसूल को टिकट दिया है. बीजेपी के अल्पसंख्यक प्रत्याशी उतारने के बाद इस सीट पर मुकाबला काफी दिलचस्प हो गया है.

एक युवा चेहरा होने के कारण फातिमा रसूल युवाओं में काफी लोकप्रिय हैं. फातिमा रसूल के पिता रसूल अहमद सिद्दीक़ी कांग्रेस पार्टी के टिकट पर विधायक रह चुके हैं. फातिमा ने हाल ही में बीजेपी ज्वाइन किया था, जिसके बाद उन पर भरोसा जताते हुए पार्टी ने भोपाल की उत्तर विधानसभा से उन्हें अपना प्रत्याशी बनाया है.

यह भी पढ़ें- पिता की हार का बदला लेने बेटी पाला बदलकर मैदान में उतरी

फातिमा ने कहा कि आरिफ अकील से पहले मेरे पिता इस सीट से विधायक थे. पिता ने जो काम किया है, उसे भोपाल की जनता आज तक भूल नहीं पाई है. जीत की उम्मीद जताते हुए उन्होंने कहा कि मुस्लिमों के साथ-साथ बीजेपी के परंपरागत वोट भी मुझे मिलेंगे.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का काम सभी को पसंद है. फातिमा ने राजनीति में अनुभव को लेकर सवाल पूछे जाने पर कहा कि पिता जी लंबे समय तक राजनीति में रहे और क्षेत्र की जनता की सेवा की. ऐसे में राजनीति का एक लंबा अनुभव मेरे खून में ही है.

बता दें कि फातिमा के पिता रसूल अहमद सिद्दीक़ी 90 के दशक में भोपाल उत्तर सीट से दो बार कांग्रेस विधायक रह चुके हैं. 1992 में आरिफ अकील ने निर्दलीय चुनाव लड़कर उन्हें हरा दिया था और फिर खुद भी कांग्रेस में शामिल हो गए थे. अपने पिता की हार का बदला लेने के लिए फातिमा बीजेपी के टिकट पर मैदान में उतरी हैं.

यह भी पढ़ें- शिवराज का शिकार करने कांग्रेस ने खेला बीजेपी का 15 साल पुराना दांव
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर