भाजपा आठ नवम्बर को मनाएगी कालाधन विरोधी दिवस

आठ नवम्बर को नोटबंदी के एक साल पूरा होने पर भारतीय जनता पार्टी मध्य प्रदेश ने इस दिन को कालाधन विरोधी दिवस मनाने की घोषणा की है
आठ नवम्बर को नोटबंदी के एक साल पूरा होने पर भारतीय जनता पार्टी मध्य प्रदेश ने इस दिन को कालाधन विरोधी दिवस मनाने की घोषणा की है

आठ नवम्बर को नोटबंदी के एक साल पूरा होने पर भारतीय जनता पार्टी मध्य प्रदेश ने इस दिन को कालाधन विरोधी दिवस मनाने की घोषणा की है

  • Share this:
आठ नवम्बर को नोटबंदी के एक साल पूरा होने पर भारतीय जनता पार्टी मध्य प्रदेश ने इस दिन को कालाधन विरोधी दिवस मनाने की घोषणा की है.

बुधवार को प्रदेश भाजपा कालाधन विरोधी दिवस पर सभी जिलों में नोटबंदी का जश्न, प्रदर्शनी, विचार-गोष्ठी, शंखनाद रैली का आयोजन करेगी. इसके साथ ही सभी जिलों में पार्टी सांसद और विधायक प्रेस-काफ्रेंस करके, नोटबंदी से कालेधन पर लगी रोक और खूबियों के बारे में बताने के साथ ही कांग्रेस का आड़े हाथों लेंगे.

खासबात ये है कि नोटबंदी के एक वर्ष पूरे होने की संध्या पर यानि कल शाम 6 बजे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद संयुक्त रुप से भोपाल में प्रदेश भाजपा मुख्यालय में प्रेस-कांफ्रेंस करेंगे.



भाजपा का कहना है कि नोटबंदी से नकदी के प्रचलन में कमी आई, इस से नक्सली, दहशतगर्दी की घटनाओं का आंकड़ा भी घटा,देश की अर्थव्यवस्था मजबूत हुई है. बैंकों में धनाभाव नहीं रहा. सरकार का राजस्व संग्रह बढ़ा है. डिजिटल भुगतान दोगुना हुआ है.
प्रदेश भाजपा प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल कांग्रेस और विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस सहित 18 दलों ने 8 नवम्बर को ब्लेक डे मनाने की घोषणा कर राजनैतिक लाभ होने का दिवा स्वपन देखा है. 8 नवंबर को जश्न की जगह काला दिवस मनाकर कांग्रेस अपना अपराध बोध व्यक्त कर रही है.

बता दें कि प्रदेश कांग्रेस ने नोटबंदी के विरोध में इसी दिन काला दिवस मनाने का ऐलान पहले ही किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज