उपचुनाव का रण : दिल्ली में बीजेपी की हाई लेवल बैठक, CM शिवराज समेत कई दिग्गज होंगे शामिल
Bhopal News in Hindi

उपचुनाव का रण : दिल्ली में बीजेपी की हाई लेवल बैठक, CM शिवराज समेत कई दिग्गज होंगे शामिल
दिल्ली में बैठक से पहले बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष वी डी शर्मा और केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने ग्वालियर चंबल में कार्यकर्ताओं के साथ एक अहम बैठक की

माना जा रहा है कि केंद्रीय नेतृत्व के साथ होने वाली इस बैठक में मध्‍य प्रदेश विधानसभा उपचुनाव (Madhya Pradesh Assembly by-election) की रणनीति तय की जाएगी.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में उपचुनाव (By election) की आहट के बीच राजनीतिक सरगर्मियां तेज हो गई हैं. इसी सिलसिले में बीजेपी (BJP) की एक अहम बैठक दिल्ली में होने जा रही है. इसमें शामिल होने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान दिल्ली पहुंच रहे हैं. उनसे पहले बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष वी डी शर्मा, संगठन महामंत्री सुहास भगत, गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा दिल्ली पहुंच चुके हैं. जबकि ज्‍योतिरादित्य सिंधिया और केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर पहले से ही दिल्ली में मौजूद हैं.

दिल्ली में रणनीति
बीजेपी की तरफ से उपचुनाव के चेहरे लगभग तय हैं. लिहाजा मंथन इस बात पर ज्यादा होने की संभावना है कि आखिरकार उपचुनाव में प्रचार की रणनीति और संगठन को एकजुट रखने के लिए क्या किया जाए.यही वजह है कि इस बैठक को भोपाल के बजाय दिल्ली में रखा गया है जिसमें सिंधिया - शिवराज सहित केंद्रीय संगठन के नेता भी मौजूद रहेंगे

उपचुनाव की सरगर्मी तेज़
उपचुनाव को लेकर राजनीतिक सरगर्मियां बढ़ने की एक वजह यह भी है कि चुनाव की तारीखों का जल्द ही ऐलान किया जा सकता है.यह कयास लगाए जा रहे हैं कि 10 से 15 सितंबर के बीच चुनाव आयोग चुनाव तारीखों का ऐलान कर सकता है. अटकलों पर ध्यान दें तो चुनाव अक्टूबर के अंत तक होने की संभावना है. इसी को देखते हुए बीजेपी और कांग्रेस दोनों दलों में राजनीतिक तौर पर सरगर्मियां तेज हो गई हैं.





दिल्ली से पहले ग्वालियर चंबल में बैठक
दिल्ली में बैठक से पहले बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष वी डी शर्मा और केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने ग्वालियर चंबल में कार्यकर्ताओं के साथ एक अहम बैठक की. वी डी शर्मा ने बैठक के साथ-साथ नाराज नेताओं से भी मुलाकात की. माना जा रहा है कि रूठों को मनाने की कवायद के बाद वी डी शर्मा सीधे ग्वालियर से दिल्ली पहुंच गए. बैठक के दौरान इस मुद्दे पर भी चर्चा हो सकती है कि आखिरकार सिंधिया समर्थक नेताओं के आने से बीजेपी के जो नेता नाराज हैं उन्हें कैसे मनाया जाए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज