• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • बीजेपी नेता का चौंकाने वाला बयान, कहा- बुंदेलखंड में आज भी लड़कियां पांव की जूती

बीजेपी नेता का चौंकाने वाला बयान, कहा- बुंदेलखंड में आज भी लड़कियां पांव की जूती

पृथक बुंदेलखंड  की मांग को लेकर फिल्म अभिनेता से बीजेपी के नेता बने राजा बुंदेला ने कहा है कि बुंदेलखंड में आज भी लड़कियां पांव की जूती मानी जाती है. भाजपा के बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम की टीम में शामिल राजा बुंदेला ने कहा कि बुंदेलखंड में लड़कियों को आज भी आपदा की तरह माना जाता है.

पृथक बुंदेलखंड  की मांग को लेकर फिल्म अभिनेता से बीजेपी के नेता बने राजा बुंदेला ने कहा है कि बुंदेलखंड में आज भी लड़कियां पांव की जूती मानी जाती है. भाजपा के बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम की टीम में शामिल राजा बुंदेला ने कहा कि बुंदेलखंड में लड़कियों को आज भी आपदा की तरह माना जाता है.

पृथक बुंदेलखंड  की मांग को लेकर फिल्म अभिनेता से बीजेपी के नेता बने राजा बुंदेला ने कहा है कि बुंदेलखंड में आज भी लड़कियां पांव की जूती मानी जाती है. भाजपा के बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम की टीम में शामिल राजा बुंदेला ने कहा कि बुंदेलखंड में लड़कियों को आज भी आपदा की तरह माना जाता है.

  • Share this:
पृथक बुंदेलखंड  की मांग को लेकर फिल्म अभिनेता से बीजेपी के नेता बने राजा बुंदेला ने कहा है कि बुंदेलखंड में आज भी लड़कियां पांव की जूती मानी जाती है. भाजपा के बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम की टीम में शामिल राजा बुंदेला ने कहा कि बुंदेलखंड में लड़कियों को आज भी आपदा की तरह माना जाता है.

भाजपा नेता राजा बुंदेला ने कहा कि बुंदेलखंड  में लीडरशिप की कमी की वजह से मध्यप्रदेश में होते हुए भी यह क्षेत्र पिछड़ा रहा. कांग्रेस के शासनकाल में यह क्षेत्र पूरी तरह से उपेक्षित रहा.

बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओं कार्यक्रम को बुंदेलखंड में सफल बनाने की जिम्मेदारी बीजेपी ने राजा बुंदेला को सौंपी है. ईटीवी से बातचीत में राजा बुंदेला ने कहा कि बेटी बचाओं-बेटी बचाओं कार्यक्रम से टीवी और सिनेमा के कलाकारों को भी जोड़ेंगे.

बुंदेलखंड में लड़कियों को आज भी आपदा की तरह माना जाता है. बुन्देलखंड में लिंगानुपात 62 फीसदी है. यानि 100 लड़कों पर लड़कियों की संख्या महज 62 हैं.

राज्य सरकार और सामाजिक संस्थाओं के कई प्रयासों के बावजूद अब तक यहां जागरुकता का अभाव देखा जा रहा है. हालत यह है कि अब शादी के लिए दुल्हन ढूंढना किसी चुनौती से कम नहीं है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज