Home /News /madhya-pradesh /

दीपावाली पर भोपाल आए थे Brahma Mishra, जानिए एक्टर की मौत पर क्या बोले परिजन

दीपावाली पर भोपाल आए थे Brahma Mishra, जानिए एक्टर की मौत पर क्या बोले परिजन

दिव्येंदु शर्मा ने फोटो शेयर कर दुख जताया है. (Instagram Screenshot)

दिव्येंदु शर्मा ने फोटो शेयर कर दुख जताया है. (Instagram Screenshot)

Brahma Mishra Death: ब्रह्मा मिश्रा की मौत पर परिवार को सदमा लगा है. परिवार को यकीन नहीं हो रहा कि अब उनका चहेता ब्रह्मा इस दुनिया में नहीं है. जीवन का संघर्ष करते-करते कब उनका लाल एक्टर बन गया पता ही नहीं चला. सफलता के बाद जब खुशियां बांटने के दिन आए तो जिंदगी से ही दूर हो गया. परिवार का कहना है कि ब्रह्मा दीपावली पर आया तो खुशी का ठिकाना नहीं था. वह सब रिश्तेदारों-पड़ोसियों से मिला. उसकी आदत थी कि चाहे वह किसी भी स्थिति में रहे, मुस्कुराता जरूर था. मुस्कान ही उसकी पहचान थी. परिजनों का कहना है कि उसका चेहरा हर वक्त आंखों के आगे घूम रहा है. उसे भुला पाना संभव नहीं.

अधिक पढ़ें ...

भोपाल. वेब सीरीज ‘मिर्जापुर’ के आर्टिस्ट ब्रह्मा मिश्रा का परिवार उनकी मौत से टूट सा गया है. ब्रह्मा दीपावली पर भोपाल आए थे और परिवार से मिले थे. भाई दूज पर भी वे सभी से मिले. परिजनों का कहना है कि उन्हें यकीन नहीं हो रहा कि ब्रह्मा 32 साल की उम्र में उन्हें छोड़कर चले गए. परिजन उनकी यादों को कभी धुंधला नहीं होने देंगे. परिवार 30 नवंबर को उनक बर्थडे पर फोन लगाता रह गया, लेकिन उन्होंने नहीं उठाया. उन्हें नहीं पता था कि उनका चहेता ब्रह्मा अब इस दुनिया में नहीं है. रायसेन में पैदा हुए और वहीं पले-बढ़े ब्रह्मा भोपाल से होते हुए मुंबई पहुंच गए थे. जब सफलता उनके पास आने लगी तो वे जिंदगी से ही दूर हो गए.

उनकी रिश्तेदार ने News18 को बताया कि ब्रह्मा मिश्रा का शव गुरुवार को मुंबई में उनके फ्लैट में मिला था. परिजनों का कहना है कि कभी सोचा नहीं था कि वो इस तरह से हम लोगों को छोड़ जाएंगे. 5 दिन पहले उन्होंने फेसबुक पर आखिरी पोस्ट डाली थी. इसमें लिखा था- मोह के क्षय हो जाने को ही मोक्ष कहते हैं. गौरतलब है कि ब्रह्मा मिश्रा रायसेन के वार्ड नंबर 12 में रहते थे. उनके पिता का नाम गोपाल प्रसाद मिश्रा हैं. वे क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक में काम करते हैं. ब्रह्मा को एक्टिंग बचपन से ही पसंद थी. उन्होंने स्कूल के समय से ही एक्टिंग करना शुरू कर दिया था. बता दें, वे कॉलेज की पढ़ाई के लिए 2002 में भोपाल आए. यहां एक्सीलेंस कॉलेज से बीए किया और इसी दौरान रंगमंच की अदाकारी करने लगे. कॉलेज के हर फंक्शन में वे हिस्सा जरूर लेते थे.

परिजनों से नहीं हो सकी कोई बात

ब्रह्मा के माता-पिता, भाई-भाभी भोपाल में सिग्नेचर 360, कटारा हिल्स, में रहते हैं. 30 नवंबर को फोन करने बाद ब्रह्मा ने 1 दिसंबर को भी फोन नहीं उठाया. इसके बाद 2 दिसंबर को परिजनों ने दोस्तों से कहा कि उसे देख आने के लिए कहा. जब दोस्त गए तो उनके होश उड़ गए. ब्रह्मा इस दुनिया में नहीं थे. उनकी लाश तीन दिन से वॉश रूम में ही पड़ी थी. लाश खराब हालत में थी. बदबू आने की वजह से पड़ोसी पहले ही दरवाजा खुलवा चुके थे. उसके बाद भाई संदीप और पिता मुंबई रवाना हुए.

दीपावली और भाई दूज पर मिले परिवार से

परिजनों के मुताबिक ब्रह्मा ने दीपावली भोपाल में ही मनाई थी. वे भाई दूज पर रिश्तेदारों से मिले और खूब मस्ती की. 29 नवंबर को भाई और परिजनों की ब्रह्मा से आखिरी बार बात हुई थी. 5 दिन पहले उन्होंने फेसबुक पर आखिरी पोस्ट डाली थी. इसमें लिखा था- मोह के क्षय हो जाने को ही मोक्ष कहते हैं. ब्रह्मा ने इंस्टाग्राम पर भी अपनी एक फोटो पोस्ट की थी, जिसमें उन्होंने कोई कैप्शन तो नहीं दिया था लेकिन यह उनके भोपाल वाले घर के बाहर क्लिक किया गया फोटो था. परिजनों ने कहा कि दीपावली पर ब्रह्मा जब मिलने आए तो बेहद खुश थे. हमने कभी सोचा नहीं था कि वो इस तरह से हम लोगों को छोड़ जाएंगे.

Tags: Bhopal news, Bollywood, Brahma Mishra, Mp news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर