Home /News /madhya-pradesh /

ब्रिलिएंट स्टूडेंट रहा है Bulli Bai App का मास्टरमाइंड नीरज बिश्नोई, राजस्थान से है खास कनेक्शन, जानिए पूरी कुंडली

ब्रिलिएंट स्टूडेंट रहा है Bulli Bai App का मास्टरमाइंड नीरज बिश्नोई, राजस्थान से है खास कनेक्शन, जानिए पूरी कुंडली

Jaipur News: मास्टर माइंड नीरज पढ़ाई में बहुत होशियार था

Jaipur News: मास्टर माइंड नीरज पढ़ाई में बहुत होशियार था

Bulli Bai app Case Latest Update: बुली बाई ऐप के सरगना नीरज बिश्नोई का मध्य प्रदेश से सीधा कनेक्शन है. वह सीहोर के वैल्लोर इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (VIT) से बीटेक (कम्प्यूटर साइंस) की पढ़ाई कर रहा है. नीरज सेकंड ईयर में है, लेकिन अब संस्थान ने उसे निष्कासित कर दिया है. नीरज पढ़ाई में कितना तेज है इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उसने 10-12वीं में 86 फीसदी नंबर हासिल किए. हालांकि, उसका परिवार गरीबी में जीवन जी रहा है. आरोपी राजस्थान के नागौर का रहने वाला है. उसके लैपटॉप से पुलिस को 150 से ज्यादा पोर्न फिल्में और गेम्स मिले हैं. पुलिस का कहना है कि वह इतना शातिर है कि उसने 16 साल की उम्र में एक स्कूल की वेबसाइट को हैक कर लिया था क्योंकि मैनेजमेंट ने उसकी बहन को एडमिनशन नहीं दिया था. नीरज जानबूझ कर पुलिस के सामने ऐसी हरकतें कर रहा है, जिससे जांच में देरी हो.

अधिक पढ़ें ...

भोपाल. देश में हड़कंप मचा रहे बुली बाई ऐप विवाद के तार मध्य प्रदेश से भी जुड़ गए हैं. दिल्ली पुलिस की गिरफ्त में आया बुली बाई एप कांड का सरगना 20 साल का नीरज बिश्नोई भोपाल की प्राइवेट यूनिवर्सिटी का छात्र है. वह सीहोर स्थित वैल्लोर इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (VIT) से बीटेक (कम्प्यूटर साइंस) कर रहा है. नीरज पढ़ाई में तेज है. उसकी आर्थिक भले ही अच्छी न हो, लेकिन उसने 10-12वीं में 86 फीसदी नंबर हासिल किए हैं. आरोपी राजस्थान के नागौर का रहने वाला है.

गौरतलब है कि इस वक्त वह सेकेंड ईयर में है. उसने दो साल पहले यहां एडमिशन तो लिया था, लेकिन कोविड-19 के कारण कभी कॉलेज नहीं आया. बुली बाई एप मामले में उसका नाम आते ही कॉलेज मैनेजमेंट ने उसे निष्कासित कर दिया है. अब इस मामले में सीहोर पुलिस भी एक्शन मोड में आ गई है. सूत्रों के मुताबिक, दिल्ली पुलिस की एक टीम बुधवार को नीरज के पिता दशरथ से पूछताछ करने पहुंची थी. उसके पिता पेशे से दुकानदार हैं. उनकी दो बेटियां और सबसे छोटा बेटा है. दिल्ली पुलिस नीरज को अपने साथ ले गई थी. पुलिस ने आरोपी का मोबाइल फोन और लैपटॉप भी जब्‍त किया. जिस मोबाइल को जब्त किया गया, वह नीरज की मां का है.

पढ़ाई में होशियार है नीरज

जानकारी के मुताबिक, पिता ने पुलिस से कहा कि नीरज ने हमें बताया है कि वह किसी भी गलत काम में शामिल नहीं था. उसने दिल्‍ली पुलिस टीम को भी बताया कि वह निर्दोष है. ऐसा संभव है कि किसी ने उसकी फोटो का दुरपयोग किया हो. आरोपी छात्र के पिता ने बताया कि नीरज ने 86 प्रतिशत से दसवीं पास की थी और राज्‍य सरकार ने उसे लैपटॉप दिया था. हमारी आर्थिक स्थिति अच्‍छी नहीं थी. हम बेटे के लिए कंप्‍यूटर नहीं खरीद सकते थे. कक्षा 12 में भी 86 प्रतिशत हासिल किए और 2019 में उसे वेल्‍लोर इंस्‍टीट्यूट ऑफ टेक्‍नोलॉजी भोपाल में प्रवेश मिल गया था. वह इन दिनों ऑनलाइन पढ़ाई कर रहा था. वह लैपटॉप पर रात 11 बजे तक काम करता था. हाल ही में वह पारिवारिक शादी में शामिल होने राजस्‍थान गया था और 25 दिसंबर को जोरहाट लौटा था.

Tags: Bhopal news, Mp news, Nagaur News

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर