Home /News /madhya-pradesh /

बुरहानपुर: यातायात पुलिस ने महिला चालकों को जागरूक करने के लिए की ये पहल

बुरहानपुर: यातायात पुलिस ने महिला चालकों को जागरूक करने के लिए की ये पहल

बिहार, उत्तर प्रदेश, झारखंड और उत्तराखंड जैसे राज्यों में चालान की संख्या में तो 20 से 30 प्रतिशत की कमी आई है.

बिहार, उत्तर प्रदेश, झारखंड और उत्तराखंड जैसे राज्यों में चालान की संख्या में तो 20 से 30 प्रतिशत की कमी आई है.

बुरहानपुर (Burhanpur) जिले में यातायात पुलिस (Traffic Police) ने महिला चालकों (Women Drivers) पर अपना फोकस बढ़ा दिया है.

बुरहानपुर. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के बुरहानपुर (Burhanpur) जिले में यातायात पुलिस (Traffic Police) ने महिला चालकों (Women Drivers) पर अपना फोकस बढ़ा दिया है. जनवरी माह में आयोजित सड़क सुरक्षा सप्ताह (Road safety week) में यातायात पुलिस ने महिलाओं को यातायात नियमों (Traffic Rules) के प्रति जागरूक करने के लिए हेलमेट (Helmet) पहनकर वाहन रैली का आयोजन किया. इस दौरान सभी को नियमों का पालन करने की शपथ दिलाई.

महिला चालकों को शपथ दिलाने के बाद अब पुलिस ने यातायात में महिला पुलिसकर्मियों की शहर के प्रमुख चौराहों पर तैनाती कर दी है. ये महिला पुलिसकर्मी पुरुषों को यातायात नियमों का पालन करने की समझाइश देंगी, लेकिन इसमें खासतौर से महिलाएं व छात्राएं जो वाहन चला रही हैं उन्हें विशेषकर यातायात नियमों का पालन करने की समझाइश देंगी.

समझाइश देने पर भी नियमों का उल्लंघन करने वालों पर होगी चालानी कार्रवाई

पहले समझाइश दी जाएगी, इसके बाद नियमों का उल्लंघन करने वालों पर चालानी कार्रवाई की जाएगी. यातायात पुलिस के मुताबिक इस नए प्रयोग से प्रारंभिक रूप से अच्छा फीडबैक मिल रहा है. बहरहाल, लगातार महिलाओं व छात्राओं द्वारा दो पहिया और चार पहिया वाहन चलाने का चलन बढ़ रहा है. ऐसे में उन्हें यातायात नियमों के बारे जागरूक करने की एक पहल की गई है.

ये भी पढ़ें:- हनुमान चालीसा के पाठ पर राज्यपाल ने कमलनाथ सरकार की पीठ थपथपाई, CAA पर कहा ये

ये भी पढ़ें:- नेपाल के उपराष्ट्रपति का सलाहकार बताकर ठाठ-बाट से घूम रहा था नटवरलाल

Tags: Burhanpur news, Madhya pradesh news, Traffic Department

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर