Home /News /madhya-pradesh /

उमा भारती की राहुल गांधी को नसीहत, संसद में बैठो वरना ये 'तिकड़ी' ले लेगी जगह

उमा भारती की राहुल गांधी को नसीहत, संसद में बैठो वरना ये 'तिकड़ी' ले लेगी जगह

उमा भारती ने कहा कि राहुल गांधी को संसद में ज्यादा बैठना चाहिए औऱ गौर से सुनना चाहिए.

उमा भारती ने कहा कि राहुल गांधी को संसद में ज्यादा बैठना चाहिए औऱ गौर से सुनना चाहिए.

उमा भारती ने कहा कि हार्दिक पटेल, जिग्नेश मेवाणी औऱ अल्पेश ठाकोर से राहुल गांधी का डरना चाहिये क्योंकि इन तीनो ने राहुल गांधी की जगह ले ली है.

    केन्द्रीय मंत्री उमा भारती ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को नसीहत दी है कि वो पार्लियामेंट में बैठना शुरू करें औऱ सुनना शुरू करें. वरना उनकी जगह एक खास तिकड़ी ले लेगी.

    मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में केन्द्रीय मंत्री उमा भारती ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को संसद में ज्यादा बैठना चाहिए औऱ गौर से सुनना चाहिए. उन्होंने कहा कि हार्दिक पटेल, जिग्नेश मेवाणी औऱ अल्पेश ठाकोर से राहुल गांधी का डरना चाहिये क्योंकि इन तीनो ने राहुल गांधी की जगह ले ली है.

    वहीं चुनावी राजनीति से तीन साल के लिये रिटायर होने के बाद उमा भारती ने कहा कि डॉक्टर्स की सलाह पर स्वास्थ्य कारणों के चलते अमित शाह और प्रधानमंत्री मोदी के सामने मंत्री पद छोड़ने की पेशकश की थी. लेकिन अमित शाह ने कहा कि आप 2019 तक मंत्री बनी रहें.

    उन्होंने कहा कि वो स्वास्थ्य कारणों के चलते अगला लोकसभा और विधानसभा चुनाव नही लड़ेंगी लेकिन उसके बाद के चुनावों पर वो विचार करेंगी. उन्होंने कहा कि अब मैं 3 साल का ब्रेक लूंगी. और इस दौरान सधी हुई और सामान्य दिनचर्या से रहूंगी. हालाकि उन्होंने कहा कि वो राजनीति नही छोड़ेंगी.

    उमा भारती ने भारतीय सेना पर मोहन भागवत के बयान पर बोलते हुए कहा कि सेना का अपमान सरसंघचालक मोहन भागवत के बयान ने नहीं बल्कि JNU ने किया है. केन्द्रीय मंत्री ने इसे मोहन भागवत का फ्रीडम ऑफ़ एक्सप्रेशन बताया है.

    Tags: Bhopal news, Madhya pradesh news, Rahul gandhi, Uma bharti

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर