लाइव टीवी

एक अनजान कॉल जो कहता है-आप कौन बनेगा करोड़पति के लिए लिए चुने गए हैं फिर...
Bhopal News in Hindi

Prateek Mohan Awasthi | News18 Madhya Pradesh
Updated: February 12, 2020, 12:09 PM IST
एक अनजान कॉल जो कहता है-आप कौन बनेगा करोड़पति के लिए लिए चुने गए हैं फिर...
टी वी शो कौन बनेगा करोड़पति के नाम पर ठगी

साइबर बदमाश एक फर्जी क्लिप, ऑडियो, मैसेज तैयार कर बताते हैं कि अपने 25 लाख का इनाम जीत लिया है. कई मैसेज में अमिताभ बच्चन की डुप्लीकेट आवाज रहती है. यह भी बताया जाता है कि आपका नंबर लक्की ड्रा में KBC के लिए निकला है.

  • Share this:
भोपाल में एक टीवी चैनल के लोकप्रिय शो कौन बनेगा करोड़पति (kaun banega crorepati) के नाम पर बदमाश लोगों को ठग रहे हैं. ऐसे एक नहीं कई मामलों की शिकायत साइबर क्राइम सेल (Cyber crime cell) में हुई है. बदमाश बकायदा ऑडियो (audio) और वीडियो क्लिप (video clip) भेजकर लोगों को झांसा दे रहे हैं. इसमें अमिताभ बच्चन की आवाज़ की नकल भी होती है और शो का जाली सेट भी दिखाया जाता है. ठग 15 हज़ार से लेकर लाखों रुपए तक वसूलकर फरार हो जाते हैं. ठगे जाने के बाद लोग साइबर क्राइम पुलिस (Cyber crime cell) से शिकायत करने पहुंच रहे हैं. और साइबर क्राइम पुलिस लोगों से अपील कर रही है कि वो अनजान लोगों की बातों में ना आएं.

ऐसे कर रहे हैं ठगी
साइबर अपराधी एक फर्जी क्लिप, ऑडियो, मैसेज तैयार कर बताते हैं कि अपने 25 लाख का इनाम जीत लिया है. कई मैसेज में अमिताभ बच्चन की डुप्लीकेट आवाज रहती है. यह भी बताया जाता है कि आपका नंबर लक्की ड्रा में KBC के लिए निकला है. इसके बाद आरोपी वीडियो कॉलिंग या ऑडियो कॉलिंग के जरिए झांसे में फंसे व्यक्ति से सम्पर्क करता है. विश्वास दिलाने के लिए वीडियो कॉलिंग में KBC जैसा सेट और अमिताभ बच्चन के फर्जी साइन का चेक बताते हैं. जब व्यक्ति पूरी तरह से झांसे में आ जाता है, तो आरोपी अग्रिम टैक्स या फिर सिक्यूरिटी की राशि अकाउंट में जमा करने के नाम पर लोगों को ठग लेता है. ये राशि कभी रजिस्ट्रेशन तो कभी जीएसटी के नाम पर ली जाती है. कई बार यह भी बताया है कि आपके लिए गए पैसे वापस हो जाएंगे और 25 लाख रुपए के साथ अटैच होकर आएगा.

15 हजार से लेकर लाखों रुपए तक की वसूली

ये शातिर ठग झांसे में आए व्यक्ति से 15000 से लेकर लाखों रुपए तक वसूलते हैं. जब व्यक्ति को आरोपियों पर शक होता है और वो पैसे देने से मना कर देता है तो आरोपी एक लाख से लेकर 5 लाख तक की डिमांड उसके सामने रख देते हैं. उसके बाद आरोपी अपने सभी कांटेक्ट नंबर बंद कर देते हैं. ठगे गए लोगों के पास आरोपी तक पहुंचने का कोई जरिया नहीं रहता और फिर वो पुलिस से मदद मांगता है. ऐसे में साइबर क्राइम के अधिकारियों का कहना है कि यदि जरा सी सावधानी बरती जाए तो इस तरीके की ठगी की वारदात को टाला जा सकता है.

पुलिस ने की अपील
साइबर क्राइम एडिशनल एसपी सन्देश जैन ने कहा साइबर अपराधी तरह तरह से लोगों को अपने जाल में फंसाते हैं. इसलिए किसी भी तरह के लालच से लोगों को बचना चाहिए. क्योंकि अधिकांश मामलों में लोग लालच में आकर ठगी के शिकार हो जाते हैं. ऐसे में ऑनलाइन होने वाली ठगी से बचने के लिए सावधान रहने की जरूरत है. यदि कोई फोन, ईमेल, मैसेज या सोशल मीडिया के दूसरे माध्यमों से संपर्क कर लालच देता है, तो उसकी शिकायत स्थानीय सायबर क्राइम सेल में करना चाहिए.ये भी पढ़ें-गुजरात दंगों के सात दोषी जबलपुर पहुंचे, करेंगे सामुदायिक सेवा

MP विधानसभा का बजट सत्र 16 मार्च से, सरकार ने लगायी फिज़ूलखर्ची पर रोक

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 12, 2020, 12:09 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर