लाइव टीवी

फर्जी वेबसाइट बनाकर बेरोज़गारों से की थी लाखों की ठगी, EOW ने कोर्ट में पेश की चार्जशीट

Manoj Rathore | News18 Madhya Pradesh
Updated: December 10, 2019, 10:12 PM IST
फर्जी वेबसाइट बनाकर बेरोज़गारों से की थी लाखों की ठगी, EOW ने कोर्ट में पेश की चार्जशीट
ईओडब्ल्यू ने आरोपियों के खिलाफ ज़िला कोर्ट में पेश की चार्जशीट

ईओडब्ल्यू (EOW) ने फर्जी वेबसाइट के जरिए बेरोजगार युवाओं (Unemployed Youth) को लूटने वाले आरोपियों के खिलाफ जिला कोर्ट में चार्जशीट पेश की है. आरोपियों ने फर्जी वेबसाइट बनाकर युवाओं से डिमांड ड्रॉफ्ट के जरिए लाखों की रकम वसूली थी. ये पैसे 7 विभिन्न बैंक अकाउंटों में डलवाए गए थे.

  • Share this:
भोपाल. आरोपी अमरदीप भावरकर ने बेरोजगारों को लूटने के लिए एक फर्जी वेबसाईट (Fake Website) बनवाई थी. अमरदीप भावरकर उर्फ अपिल जैन ने अपने साथी प्रशांत तिवारी के साथ मिलकर फर्जी वेबसाइट पर नौकरी (Job) के लिए झूठा विज्ञापन (Fake Advertisement) जारी किया. इस विज्ञापन में विभिन्न प्राइवेट पदों पर नौकरी के लिए आवेदकों से 250 से लेकर 350 रुपये तक डिमांड ड्रॉफ्ट के जरिए मांगे गए. आरोपियों के झांसे में आकर कई युवाओं ने इस राशि को डिमांड ड्रॉफ्ट के जरिए भेजा. आरोपियों ने फर्जी नाम और दस्तावेजों के साथ खोले गये विभिन्न बैंकों के 7 खातों में पैसों को जमा करवाकर एटीएम के जरिए करीब 5,61,445 रुपए निकाल लिए थे.

वेबसाइट में मदद करने वाले भी बने आरोपी
ईओडब्ल्यू ने सभी आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट पेश कर दी है. इस मामले की जांच के दौरान इस बात का खुलासा हुआ है कि वेबसाईट बनवाने के लिए आरोपी अमरदीप भावरकर के दोस्त कुशल पाहुजा और अमित वाधवानी ने भी मदद की थी. इसके लिए एक लेटर ऑफ एग्रीमेंट और अन्य संबंधित दस्तावेजों की आवश्यकता थी. कुशल पाहुजा के फर्जी कंटेंट की मदद से अमित वाधवानी ने फर्जी वेबसाइट तैयार की थी.

ये भी पढ़ें -

CAG रिपोर्ट के बाद कमलनाथ सरकार ने तलब किया सिंचाई और नहरों के ठेकों का लेखा जोखा
जबलपुर: ऐसे पुलिस के हत्थे चढ़ा गैंगस्टर 'रावण', जिसकी गर्लफ्रेंड थी 'मंदोदरी'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 10, 2019, 10:12 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर