कोरोना कर्फ्यू के बीच हो रहा था बाल विवाह, अधिकारियों ने समय रहते उठाया ये कदम

भोपाल में कोरोना कर्फ्यू के बीच बाल विवाह का आयोजन हो रहा था.

भोपाल में कोरोना कर्फ्यू के बीच बाल विवाह का आयोजन हो रहा था.

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में हड़कंप मच गया. यहां कोरोना कर्फ्यू के बीच बाल विवाह कराया जा रहा था. प्रशासनिक अधिकारियों ने समय रहते इसे रुकवाया. परिवारवालों को समझाइश दे दी गई है.

  • Last Updated: May 1, 2021, 4:11 PM IST
  • Share this:
भोपाल. भोपाल में कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच बाल विवाह की खबर से प्रशासन के बीच हड़कंप मच गया.  अधिकारियों ने समय रहते विवाह रुकवाया और परिवारों को समझाइश दी. अधिकारियों का कहना है कि अगर इन्होंने फिर भी विवाह किया तो कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

जानकारी के मुताबिक, चाइल्डलाइन को कल दोपहर किसी अज्ञात व्यक्ति ने सूचना दी कि आदमपुर छावनी में 16 साल की लड़की के बाल विवाह की जबरदस्त तैयारियां हो रही हैं. सूचना के बाद महिला बाल विकास विभाग परियोजना अधिकारी अखिलेश चतुर्वेदी, बिलखिरिया थाना प्रभारी पुलिसबल के साथ विवाह स्थल पर पहुंचे.

समझाइश देकर रुकवाया विवाह

यहां अधिकारियों ने लड़के और लड़की के परिवार  को समझाइश दी. नाबालिग लड़की के शादी से इनकार के बाद शादी समारोह को रोका गया. लड़की ने 18 साल का होने पर ही शादी के लिए रजामंदी दी है. इस पूरे घटनाक्रम को निपटाने में दो से तीन घंटे का समय लग गया.
18 साल से पहले विवाह होने पर होगी कार्रवाई

महिला बाल विकास के परियोजना  अधिकारी अखिलेश चतुर्वेदी का  कहना है कि लड़की के बालिग ना होने पर सहमति से बाल विवाह को रोक दिया गया है. इसके बाद भी अगर नाबालिग लड़की का विवाह बालिग होने से पहले कराया जाता है तो दोनों परिवारों पर बाल विवाह अधिनियम 2006 के तहत कानूनी कार्रवाई की जाएगी. इसकी सारी जिम्मेदारी लड़का और लड़की के परिवार वालों की होगी.

कोरोना की प्रदेश में हालत



मध्यप्रदेश में शुक्रवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 12400 नए मामले सामने आए और इसके साथ ही प्रदेश में इस वायरस से अब तक संक्रमित पाए गए लोगों की कुल संख्या 5,63,327 पर पहुंच गयी है. स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने इसकी जानकारी दी. अधिकारी ने बताया कि राज्य में पिछले 24 घंटों में इस बीमारी से प्रदेश में 97 और व्यक्तियों की मौत हुई है जिसके बाद प्रदेश में इस बीमारी से मरने वालों की संख्या अब तक 5,616 हो गयी है.

उन्होंने कहा कि प्रदेश में शुक्रवार को कोविड-19 के 1811 नये मामले इंदौर में आये, जबकि भोपाल में 1713, ग्वालियर में 980 एवं जबलपुर में 776 नये मामले आये. अधिकारी ने बताया कि प्रदेश में कुल 5,63,327 संक्रमितों में से अब तक 4,66,915 मरीज स्वस्थ होकर घर चले गये हैं और 90,796 मरीजों का इलाज विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है. उन्होंने कहा कि शुक्रवार को 13584 रोगियों को ठीक होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज