• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • MP में होगा बाल कांग्रेस का गठन, 16 से 20 साल के युवाओं को मिलेगी जगह

MP में होगा बाल कांग्रेस का गठन, 16 से 20 साल के युवाओं को मिलेगी जगह

सांकेतिक फोटो.

सांकेतिक फोटो.

MP News: मध्य प्रदेश में कांग्रेस नया बाल संगठन तैयार कर नवयुवकों को देशभक्ति का पाठ पढ़ाने की तैयारी में है. प्रदेश उपाध्यक्ष चंद्रप्रभाष शेखर ने कहा है कि प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने इस विचार को रूप देते हुए बाल कांग्रेस के गठन का निर्देश दिया है. बाल कांग्रेस में 16 वर्ष से 20 वर्ष तक के युवाओं को स्थान दिया जाएगा.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों की दूसरी तीसरी और चौथी पीढ़ी सामने आ रही है. जिसे लेकर कांग्रेस नया बाल संगठन (Bal Congress) तैयार कर उन्हें देशभक्ति का पाठ पढ़ाने की तैयारी में है. प्रदेश उपाध्यक्ष चंद्रप्रभाष शेखर ने कहा है कि प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने इस विचार को रूप देते हुए बाल कांग्रेस के गठन का निर्देश दिया है. बाल कांग्रेस में 16 वर्ष से 20 वर्ष तक के युवाओं को स्थान दिया जाएगा.

बाल कांग्रेस के गठन करने के पीछे पार्टी की मंशा उन्हें नीतियों, राष्ट्र निर्माण के लक्ष्य और भारत के निर्माण से जुड़े कांग्रेस के कार्यक्रमों के बारे में बौद्धिक रूप से सुसज्जित करने की है. इसको लेकर समस्त जिला इकाईयों से गठन के संबंध में सुझाव मांगे गये हैं. मसलन अब एमपी में बाल कांग्रेस का गठन होगा.

बीजेपी ने कांग्रेस को आत्ममंथन की दी सलाह

बाल कांग्रेस के गठन के पहले इस मुद्दे पर सियासत शुरु हो गई है. बीजेपी ने इस पर पलटवार किया है. कांग्रेस में युवाओं को जोड़ने पर उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव ने कहा कि कांग्रेस मध्यप्रदेश में विपक्षी दल की भूमिका अदा करती है. कांग्रेस यादि बाल, शिशु कांग्रेस, जवान और बूढ़ी कांग्रेस करने के बजाय आत्म विश्लेषण करे तो बेहतर होगा. अपनी भूमिका निभाने के बजाय कांग्रेस एक परिवार के पीछे पड़ी हुई है. कांग्रेस लगातार रसताल में जा रही है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस सार्थक भूमिका के किये आत्मविश्लेषण करे और अपने लोगों पर भरोसा करे.

कांग्रेस का वोट बैंक घटा

उन्होंने कहा कि एक परिवार से बाहर आकर कांग्रेस किसी को नेता बनाएं. कांग्रेस का लगातार 20 साल में कितना वोट बैंक बढ़ा है. हर साल हर चुनाव में उनका वोट बैंक घटा है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस को आत्म विश्लेषण करना चाहिए कि पूरे देश में आखिर उनकी इतनी दुर्गति क्यों हो रही है. बंगाल में भी स्थिति साफ हो गई और केरल में भी यही हुआ. कांग्रेस जब तक आत्म विश्लेषण कर नेतृत्व तैयार नहीं करेगी तब तक यह सब बातें शिगूफा ही होंगीं. कांग्रेस के प्रति प्रतिबद्ध इन परिवारों की ओर से लगातार अपनी नई पीढ़ी के बच्चों को कांग्रेस विचार से जोड़ने की चर्चा हो रही थी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज