कोरोना में आयुर्वेद ने भी दी संजीवनी, डॉक्टर का दावा- भोपाल में ठीक हुए कई मरीज 

MP में काढ़ा मुफ्त में बांटा जा रहा है..Image-shutterstock.com

Bhopal. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj) शुरू से ही काढ़ा को बढ़ावा देते रहे हैं. उन्होंने कहा भी था कि कोरोना (Corona) की रोकथाम में आयुर्वेद की भी मदद ली जाएगी.

  • Share this:
भोपाल. आयुर्वेद और एलोपैथी में यूं तो कई बार मतभेद देखने को मिले हैं लेकिन कोरोना की वजह से आई आपदा में कई विशेषज्ञ ये मानने लगे हैं कि आयुर्वेद की वजह से कोरोना के कई गंभीर मरीजों (Corona patients) जान बच गयी. दावा है कि भोपाल में जिस वक्त अस्पतालों में इलाज के लिए बेड नहीं मिल रहे थे उस वक़्त कई मरीजों को आयुर्वेद की दवाओं के इस्तेमाल से घर पर ही ठीक करने में मदद मिली.

भोपाल के पंडित खुसीलाल  शर्मा आयुर्वेद महाविद्यालय से पढ़ाई करने वाले डॉक्टर सूर्यभान गुर्जर उन्हीं में से एक हैं जिन्होंने आयुर्वेद से कोरोना मरीजों का सफल इलाज करने का दावा किया है. सूर्यभान की मानें तो उनके पास आने वाले कुछ मरीजों को उन्होंने केवल आयुर्वेद से ठीक किया जबकि कुछ मरीजों को एलोपैथी की दवाओं के साथ आयुर्वेदिक दवाईयां दी.

कैसे करता है आयुर्वेद काम ? 
डॉ सूर्यभान का कहना है आयुर्वेदिक दवाएं भी एक फॉर्मूले पर काम करती हैं बशर्ते उन्हें सही अनुपात और मिश्रण में दिया जाए. कोरोना मरीजों को देने के लिए आयुर्वेदिक दवाओं का जो मिश्रण सूर्यभान ने तैयार किया वो काफी हद तक कारगर साबित हुआ.  इसमें बहुत से ऐसे ड्रग हैं जो ब्रॉड एस्पेक्टरम एंटीवायरल प्रॉपर्टी के हैं और लंग्स के म्यूकस को कम करते हैं. साथ ही साथ हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि करते हैं. सीआरपी काउंट भी कम करते हैं. डॉक्टर सूर्यभान की मानें तो दुनिया के किसी भी रोग का इलाज आयुर्वेद से संभव है और कोरोना में नित्य नए परिणाम आयुर्वेद से देखने और सुनने को मिल रहे हैं. इस बीच जब लोग कोरोना संक्रमित हुए तो सबसे पहले उनका इलाज शुरू किया. उसके बहुत अच्छे परिणाम साबित हुए.

सरकार दे रही आयुर्वेद को बढ़ावा
मध्य प्रदेश सरकार ने भी कोरोना के खिलाफ लड़ाई में आयुर्वेद को कारगर हथियार माना है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शुरू से ही काढ़ा को बढ़ावा देते रहे हैं. उन्होंने कहा भी था कि कोरोना की रोकथाम में आयुर्वेद की भी मदद ली जाएगी. इतना ही नहीं सरकार की ओर से लोगों को इम्यूनिटी बढ़ाने वाला काढ़ा भी मुफ्त बांटा जा रहा है ताकि कोरोना संक्रमण की रफ्तार को कम किया जा सके.