माउंट एवरेस्ट पर फहराया तिरंगा, विक्रम अवार्ड से नवाजे जाएंगे भगवान सिंह
Bhopal News in Hindi

माउंट एवरेस्ट पर फहराया तिरंगा, विक्रम अवार्ड से नवाजे जाएंगे भगवान सिंह
दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट को फतह करने वाले खेल विभाग के कर्मचारी भगवान सिंह कुशवाह विक्रम अवार्ड से नवाजे जाएंगे. इसके लिए मध्यप्रदेश सरकार जल्द ही सभी प्रक्रिया पूरी कर चयन समिति से सिफारिश करेगी.

दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट को फतह करने वाले खेल विभाग के कर्मचारी भगवान सिंह कुशवाह विक्रम अवार्ड से नवाजे जाएंगे. इसके लिए मध्यप्रदेश सरकार जल्द ही सभी प्रक्रिया पूरी कर चयन समिति से सिफारिश करेगी.

  • Share this:
दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट को फतह करने वाले खेल विभाग के कर्मचारी भगवान सिंह कुशवाह विक्रम अवार्ड से नवाजे जाएंगे. इसके लिए मध्यप्रदेश सरकार जल्द ही सभी प्रक्रिया पूरी कर चयन समिति से सिफारिश करेगी.

इसके पहले भगवान सिंह कुशवाह ने खेल मंत्री यशोधराराजे सिंधिया से मुलाकात की. खेल संचालक उपेन्द्र जैन के साथ यशोधरा राजे से मुलाकात के दौरान पर्वतारोही भगवान सिंह भावुक दिखे.

भगवान सिंह ने 54 दिनों की साहसिक यात्रा कर एवरेस्ट की चोटी पर तिरंगा फहराने में सफलता हासिल की है. जोश और जज्बे के साथ हर मुश्किल का सामना करने वाले भगवान सिंह की उपलब्धि देखकर खेल मंत्री यशोधराराजे ने खुशी जाहिर की.



INSPIRATION: एमपी के दो युवाओं ने फतह किया माउंट एवरेस्ट, फहराया तिरंगा
यशोधराराजे ने नया कीर्तिमान स्थापित कर मप्र और खेल विभाग का नाम रोशन करने वाले भगवान सिंह कुशवाह के लिए विक्रम अवार्ड की पैरवी की बात कही.

गौरतलब है कि सतना के रत्नेश पांडे और भोपाल में खेल विभाग के कर्मचारी भगवान सिंह कुशवाह ने एक अप्रैल से माउंट एवरेस्ट को फतह करने का अभियान शुरू किया था. उनके साथ यूरोप के दो देशों के पर्वतारोही भी शामिल थे.

इंदौर में निजी टेलीकॉम कंपनी में असिस्टेंट मैनेजर रत्नेश पांडे ने पिछले साल भी दुनिया की सबसे ऊंची चोटी पर चढ़ने की कोशिश की थी. नेपाल में आए विनाशकारी भूकंप के बाद रत्नेश को अपना अभियान बीच में ही बंद कर वापस लौटना पड़ा था.

रत्नेश पांडे इस बार दुनिया की सबसे ऊंची चोटी पर तिरंगा झंडा फहराने का ठानकर ही अभियान पर निकले थे और आखिरकार वह अपने मिशन में कामयाब रहे.

bhagawan singh

वहीं, भगवान सिंह कुशवाह को इस मिशन के लिए खेल विभाग ने विशेष मदद की. विभाग ने छु्ट्टी के अलावा कुशवाह को इस मिशन को पूरा करने के लिए आर्थिक मदद भी उपलब्ध कराईं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज