CM कमलनाथ पहुंचे सरकारी अस्पताल, शनिवार को होगी सर्जरी

मुख्यमंत्री कमलनाथ शुक्रवार को अचानक भोपाल के हमीदिया अस्पताल पहुंचे. उनके हाथ का ऑपरेशन होना है. फिलहाल वो चेकअप करवाकर लौट गए. शनिवार को ऑपरेशन होगा.

News18 Madhya Pradesh
Updated: June 22, 2019, 8:55 AM IST
CM कमलनाथ पहुंचे सरकारी अस्पताल, शनिवार को होगी सर्जरी
मुख्यमंत्री कमलनाथ ने जनता से अपील की है वे सामान्य मरीज की तरह ही अस्पताल में भर्ती होकर इलाज करा रहे हैं. इसलिए कोई भी उनसे अस्पताल मिलने ना आए.
News18 Madhya Pradesh
Updated: June 22, 2019, 8:55 AM IST
मुख्यमंत्री कमलनाथ का आज हाथ का माइनर ऑपरेशन होना है. वो भोपाल के सरकारी हमीदिया अस्पताल में ऑपरेशन करवाएंगे. सीएम ने शुक्रवार को अस्पताल जाकर अपना चैकअप करवाया था.  जानकारी के अनुसार उनके दांये हाथ की उंगली का माइनर ऑपरेशन होना है. परेशन के लिए डॉक्टर दिल्ली से आ रहे हैं. अरसे बाद ये पहला मौका है जब कोई सीएम या बड़ा नेता सरकारी अस्पताल में इलाज करवाने पहुंचा.

शुक्रवार देर शाम मुख्यमंत्री कमलनाथ के भोपाल स्थित सबसे बड़े सरकारी अस्पताल हमीदिया पहुंचने की खबर आई. अनुमान लगाया गया कि वो औचक निरीक्षण के लिए पहुंच रहे हैं. मीडिया में उत्सुकता थी लेकिन उसे अंदर नहीं जाने दिया गया. अस्पताल की व्यवस्था चाक-चौबंद थी. आनन-फानन में अस्पताल साफ कर दिया गया था.

आज होगी माइनर सर्जरी

सीएम हमीदिया अस्पताल पहुंचे. फिर खबर आई कि सीएम यहां औचक निरीक्षण के लिए नहीं आए हैं, बल्कि उनकी यहां एक सर्जरी होनी है इसलिए वो अस्पताल आए हैं. कमलनाथ के दाहिने हाथ के मूवमेंट में दिक्कत है. इसलिए उनका एक ऑपरेशन है. अब से कुछदेर में उनकी माइनर सर्जरी की जाएगी और फिर रात में ही उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी जाएगी. हाथ में दर्द की वजह से ही वो शुक्रवार हुए योग कार्यक्रम में शामिल नहीं हो पाए थे.

हमीदिया अस्पताल की तारीफ-इसके बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ ने जनता से अपील की है कि वे सामान्य मरीज की तरह ही अस्पताल में भर्ती होकर इलाज करा रहे हैं. इसलिए कोई भी उनसे अस्पताल मिलने न आए, ताकि अस्पताल में इलाज करा रहे अन्य मरीजों को कोई असुविधा न हो. कमलनाथ ने हमीदिया अस्पताल की व्यवस्था की तारीफ की. उन्होंने कहा हमीदिया बहुत अच्छा अस्पताल है. मैं देश के किसी भी अस्पताल में जा सकता था, लेकिन मैंने सरकारी हमीदिया अस्पताल को प्राथमिकता दी. अरसे बाद ये पहला मौका है जब कोई वीवीआईपी और वो भी सीएम अपने इलाज के लिए सरकारी अस्पताल गए हैं. अरसे से नेता सरकारी अस्पताल के बजाए शहर के प्राइवेट अस्पतालों का रुख करते आ रहे हैं.
(पूजा माथुर की रिपोर्ट) 

ये भी पढ़ें:
Loading...

न्यूज 18 पड़ताल: कमलनाथ सरकार में 25 हजार आंगनबाड़ी केंद्रों में लग गए ताले, जानें क्यों?

International Yoga Day : जबलपुर ही था योग गुरु महर्षि महेश योगी के जीवन का टर्निंग पॉइंट
First published: June 21, 2019, 8:07 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...