लाइव टीवी

नागरिकता कानून पर बोले सीएम कमलनाथ- कांग्रेस पार्टी के फैसले के साथ रहेगी MP सरकार

News18 Madhya Pradesh
Updated: December 13, 2019, 4:54 PM IST
नागरिकता कानून पर बोले सीएम कमलनाथ- कांग्रेस पार्टी के फैसले के साथ रहेगी MP सरकार
नागरिकता संशोधन कानून पर कांग्रेस पार्टी के स्टैंड के साथ रहेगी कमलनाथ सरकार. (फाइल फोटो)

नागरिकता संशोधन कानून (CAB) पर देशभर में मचे बवाल के बीच कुछ राज्यों ने जहां इसका स्पष्ट विरोध किया है, वहीं मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ (CM Kamalnath) ने कहा है कि उनकी सरकार कांग्रेस पार्टी (Congress) के स्टैंड को मानेगी.

  • Share this:
नई दिल्ली. मध्य प्रदेश की कमलनाथ (Kamalnath Government) सरकार नागरिकता संशोधन कानून (CAB) पर कांग्रेस पार्टी (Congress) का स्टैंड मानेगी. प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शुक्रवार को दिल्ली में एक कार्यक्रम के दौरान महिला पत्रकारों द्वारा पूछे गए सवाल पर यह जवाब दिया. मीडिया ने कमलनाथ (CM Kamalnath) ने पूछा था कि क्या पंजाब, केरल और पश्चिम बंगाल की तर्ज पर एमपी सरकार भी इस कानून का विरोध करेगी. सीएम कमलनाथ ने इस सवाल का सीधा जबाव नहीं देते हुए कहा कि मध्य प्रदेश सरकार इस मामले में कांग्रेस पार्टी के फैसले के साथ रहेगी.

उन्होंने केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि अर्थव्यवस्था की खराब हालत से ध्यान भटकाने के लिए यह कानून लागू किया गया है. आपको बता दें कि लोकसभा और राज्यसभा से नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) पास होने के बाद राष्ट्रपति ने भी इसे मंजूरी दे दी है. कानून के विरोध में असम समेत पूर्वोत्तर के कई राज्यों में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं.



इन 3 राज्यों ने भी किया इनकारनागरिकता संशोधन कानून को लागू करने से देश के 3 राज्यों ने पहले ही इनकार कर दिया है. पश्चिम बंगाल, केरल और पंजाब की सरकारों ने कहा है कि वे नए नागरिकता बिल को नहीं मानेंगे और इसे इन राज्यों में लागू नहीं किया जाएगा. पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस कानून को असंवैधानिक और देश को बांटने वाला बताया है. उन्होंने ऐलान किया है कि नए कानून को किसी भी हाल में पंजाब में लागू नहीं करने दिया जाएगा. पश्चिम बंगाल सरकार भी राज्य में कानून लागू नहीं करेगी.

तृणमूल सरकार में मंत्री डेरेक ओ ब्रायन ने कहा कि पश्चिम बंगाल में एनआरसी और नागरिकता संशोधन कानून दोनों लागू नहीं किए जाएंगे. इधर, केरल के मुख्यमंत्री पी. विजयन ने गुरुवार को कहा कि यह कानून उनके राज्य में लागू नहीं किया जाएगा. उन्होंने केंद्र सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि असंवैधानिक विधेयक के लिए केरल में कोई जगह नहीं होगी.

ज्योतिरादित्य सिंधिया से मतभेद नहीं
दिल्ली में महिला पत्रकारों के साथ बातचीत में सीएम कमलनाथ ने कई मुद्दों पर पूछे गए सवालों के जवाब दिए. एमपी में ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ सियासी मतभेदों के सवाल पर उन्होंने कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ कोई मतभेद नहीं है. उन्होंने कहा, 'कुछ दिन पहले हम एक साथ थे. फिर अगर कोई सवाल पूछना हो तो सिंधिया से पूछिए.' राहुल गांधी के 'रेप इन इंडिया' वाले बयान पर सीएम कमलनाथ ने कहा, 'नरेंद्र मोदी ने भी यही कहा था निर्भया कांड के समय.' उन्होंने पीएम मोदी का पुराना ऑडियो भी सुनाया. सीएम ने कहा कि भोपाल में भी महिला के साथ दुष्कर्म की खबर आई थी, हमने कड़ी कार्रवाई की थी. महिला पत्रकारों के साथ बातचीत में कमलनाथ ने एमपी सरकार की सालभर के कार्यकाल की उपलब्धियां भी गिनाईं.

राहुल गांधी पर ये बोले सीएम
महिला पत्रकारों के साथ बातचीत के दौरान एमपी के सीएम कमलनाथ ने न्यूज 18 के राहुल गांधी को कांग्रेस का दोबारा अध्यक्ष बनाए जाने संबंधी सवाल का भी जवाब दिया. न्यूज 18 के सवाल कि दो राज्यों के मुख्यमंत्री राहुल गांधी को फिर से कांग्रेस का अध्यक्ष बनाने की मांग कर रहे हैं, पर कमलनाथ ने कहा कि ये उनकी भी मांग है. वे इस बारे में पहले से कहते रहे हैं. उन्होंने इस सवाल के जवाब के दौरान हालांकि यह याद दिलाया कि सोनिया गांधी अभी पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष हैं.

(इनपुट - रंजीता झा)

ये भी पढ़ें -

'माननीयों' के सम्मान में अफसरों को खड़े होकर करना होगा नमस्कार

हनी ट्रैप : किसने लीक किए थे नेताओं और अफसरों के अश्लील वीडियो?रडार पर पुरानी SIT

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 13, 2019, 4:45 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर