CM शिवराज का ऐलान- मध्य प्रदेश में पर्यटन को बढ़ाने के लिए रामायण सर्किट का होगा विकास
Bhopal News in Hindi

CM शिवराज का ऐलान- मध्य प्रदेश में पर्यटन को बढ़ाने के लिए रामायण सर्किट का होगा विकास
स्वतंत्रता दिवस समारोह में शामिल होने से पहले मुख्यमंत्री भोपाल में स्थित युद्ध संग्रहालय के तौर पर बनाये गये शौर्य स्मारक गये. (फाइल फोटो)

सीएम शिवराज सिंह चौहान CM Shivraj Singh Chauhan) ने कहा कि नर्मदा नदी के किनारे के क्षेत्रों में नर्मदा एक्सप्रेस वे का विकास किया जायेगा. उन्होंने कहा कि इसके साथ ही औद्योगिक क्षेत्रों को विकसित किया जाएगा

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने शनिवार को कहा कि सरकार प्रदेश में पर्यटन गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिये राम वन गमन पथ और रामायण सर्किट (Ramayana Circuit) का विकास करेगी. भोपाल के मोतीलाल नेहरु स्टेडियम में राष्ट्रीय ध्वज फहराने के बाद स्वतंत्रता दिवस समारोह को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री चौहान ने कहा, ‘‘प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिये हम प्रदेश में राम गमन पथ (Ram Gaman Path) , रामायण सर्किट, अमरकंटक सर्किट, तीर्थंकर सर्किट, मां नर्मदा परिक्रमा आदि का विकास करेंगे. इससे रोजगार भी पैदा होगा.’’ चौहान ने रोज़गार उपलब्ध कराने के लिये प्रदेश में पर्यटन की अन्य गतिविधियां शुरू करने की भी घोषणा की.

उन्होंने कहा कि प्रदेश में चंबल प्रोग्रेस वे के साथ-साथ नर्मदा नदी के किनारे के क्षेत्रों में नर्मदा एक्सप्रेस वे का विकास किया जायेगा. उन्होंने कहा, ‘‘नर्मदा नदी मध्य प्रदेश की जीवन रेखा है. नर्मदा एक्सप्रेस वे बनने से इसके साथ औद्योगिक क्षेत्रों को विकसित किया जायेगा, ताकि प्रदेश में समृद्धि लाई जा सके.’’ मुख्यमंत्री ने कहा कि गरीबों को सस्ता भोजन उपलब्ध कराने के लिये कुछ शहरों में करीब तीन साल पहले शुरू की गई दीनदयाल रसोई योजना प्रदेश के सभी जिलों में शुरू की जायेगी.

गरीबों को पांच रुपये में भोजन उपलब्ध कराया जाता था
भाजपा के विचारक पं दीनदयाल उपाध्याय के नाम पर इस योजना को भाजपा के पिछले शासन काल में भोपाल एवं इन्दौर में शुरू किया गया था. इसमें गरीबों को पांच रुपये में भोजन उपलब्ध कराया जाता था. मुख्यमंत्री ने प्रदेश के कुछ चुनिंदा स्कूलों में कक्षा छह से लेकर विद्यार्थियों को व्यावसायिक प्रशिक्षण देने की बात भी कही. इसके अलावा मुख्यमंत्री ने कहा कि कन्याओं के लिऐ नए सिरे से लाड़ली लक्ष्मी योजना शुरू की जायेगी और इसके साथ ही प्रदेश के सभी सरकारी कार्यो का शुभारंभ कन्या पूजा के साथ होगा.
एकीकृत पोर्टल शुरू करने की भी घोषणा की


मुख्यमंत्री ने इस मौके पर वर्ष 2023 तक एक करोड़ घरों में पानी का नल कनेक्शन और नागरिकों की समस्याओं का समाधान करने के लिये एकीकृत पोर्टल शुरू करने की भी घोषणा की. चौहान ने कहा कि प्रदेश ‘‘आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश’’ अभियान शुरू करने जा रहा है. और इस लक्ष्य को हासिल करने के लिये एक रोड मैप तैयार किया जा रहा है. उन्होंने कहा, ‘‘हम केवल सरकार चलाने के लिये नहीं बल्कि प्रदेश को आत्म-निर्भर बनाने के लिये काम कर रहे हैं.’’ स्वतंत्रता दिवस समारोह में शामिल होने से पहले मुख्यमंत्री भोपाल में स्थित युद्ध संग्रहालय के तौर पर बनाये गये शौर्य स्मारक गये और वहां भारत माता की प्रतिमा का अनावरण किया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज