सरकार के 100 दिन पूरे होने CM शिवराज का हमला- MP में थी 4D सरकार, बताया ये मतलब

शिवराज सरकार के सौ दिन पूरे होने पर प्रदेश बीजेपी ऑफिस में वर्चुअल रैली का आयोजन किया गया

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने निशाना साधते हुए कहा कि प्रदेश में 15 महीने तक 4D सरकार थी. पहला D-दलाल, दूसरा D-दम्भ, तीसरा D-दुर्भावना और चौथा D- खुद दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) थे.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश में बीजेपी सरकार (BJP Government) के सौ दिन पूरे होने पर बीजेपी प्रदेश मुख्यालय में वर्चुअल रैली का आयोजन किया गया. इस रैली में यूं तो बीजेपी के कई दिग्गज नेता शामिल हुए, लेकिन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) और बीजेपी के नवनिर्वाचित राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) ने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) और दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) पर जमकर निशाना साधा.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ और दिग्विजय सिंह पर निशाना साधते हुए कहा कि मध्यप्रदेश में 15 महीनों तक 4D सरकार थी. पहला D-दलाल, दूसरा D-दम्भ, तीसरा D-दुर्भावना और चौथा D- खुद दिग्विजय सिंह थे. मंत्रियों की एंट्री वल्लभ भवन में बंद थी, पर दलालों के लिए आ जाओ आ जाओ का हिसाब था. अब वहां (कमलनाथ-दिग्विजय) को रात भर नींद नहीं आ रही. दोनों में बड़ी बेचैनी है कि बस एक घण्टे के लिए और सीएम बन जाउं.

सिंधिया ने भी साधा निशाना
वहीं 100 दिन की बीजेपी सरकार की उपलब्धि गिनाते हुए सिंधिया ने भी कमलनाथ और दिग्विजय सिंह पर जमकर निशाना साधा. सिंधिया ने पार्टी बदलने के मुद्दे पर कहा कि अभी भी कई चील बैठे हैं जो उन्हें साइड-साइड में नोचने के लिए तैयार हैं. लेकिन कल भी मैंने कहा था टाइगर अभी ज़िंदा है और आज भी कह रहा हूं टाइगर अभी ज़िंदा है. मैंने कांग्रेस में रहते हुए भी आपातकाल का विरोध किया था. मैं हमेशा सच बोलता हूं. सिंधिया ने सीएम शिवराज की तारीफ में कसीदे गढ़ते हुए कहा कि 20-20 घण्टा काम करने वाले शिवराज जैसे जनसेवक को मैं नमन करते हैं. वहीं इससे पहले एक ऐसे मुख्यमंत्री थे, जिन्हें सिर्फ कुर्सी की चिंता थी.

100 दिन बनाम 15 महीने
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 100 दिन की अपनी सरकार और 15 महीने की कांग्रेस सरकार की तुलना करते हुए भी कमलनाथ पर जमकर निशाना साधा. सीएम ने कर्ज माफी को कांग्रेस का सबसे बड़ा झूठ करार देते हुए कहा कि किसानों को कर्ज माफी के सर्टिफिकेट बांट दिए गए, लेकिन बैंकों को पैसा ही नहीं दिया गया. एमपी में केवल 6 हजार करोड़ की कर्ज माफी हुई, जबकि दावा सभी किसानों की कर्ज माफी का किया जाता रहा. शिवराज सिंह चौहान ने दावा किया कि आने वाले अगस्त महीने में मध्य प्रदेश सरकार फसल बीमा की करीब साढे चार हजार करोड़ की राशि किसानों के खातों में और डालेगी.

 

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.