भोपाल: सीएम शिवराज ने 'आपकी पढ़ाई आपके घर' डिजिटल ऐप को किया लॉन्च

मजदूरों की घर वापसी को लेकर सरकार ने गाइडलाइन तैयार की है. (फाइल फोटो)
मजदूरों की घर वापसी को लेकर सरकार ने गाइडलाइन तैयार की है. (फाइल फोटो)

स्कूल शिक्षा विभाग ने डिजिटल ऐप को तैयार किया है. डिजिटल ऐप प्रोग्राम के माध्यम से हर रोज प्रदेश भर के सभी पेरेंट्स और अध्यापक (Teachers) एक दूसरे से जुड़ेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 9, 2020, 12:28 AM IST
  • Share this:
भोपाल. लॉकडाउन (Lockdown) के चलते मध्य प्रदेश में बोर्ड परीक्षाएं भी स्थगित कर दी गई हैंं, तो वहीं बच्चों की पढ़ाई भी प्रभावित हो रही है. ऐसे में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बच्चों की पढ़ाई पर असर ना पड़े इसीलिए आपकी पढ़ाई आपके घर तक पहुंचाने के लिए Digital-Ep लॉन्च किया है. डिजिटल-ऐप को स्कूल शिक्षा विभाग ने तैयार किया है, ताकि इस महामारी के समय में प्रदेश भर के छात्र-छात्राएं घर पर रहकर विषयों की तैयारी कर सकें. डिजिटल ऐप के माध्यम से बच्चों का सिलेबस पूरा हो सके और उनकी पढ़ाई प्रभावित ना हो.

Digital-Ep का मकसद आपकी पढ़ाई आपके घर*
स्कूल शिक्षा विभाग ने डिजिटल ऐप को तैयार किया है. डिजिटल ऐप प्रोग्राम के माध्यम से हर रोज प्रदेश भर के सभी पेरेंट्स और अध्यापक एक दूसरे से जुड़ेंगे. इसके लिए एक व्हाट्सऐप ग्रुप तैयार किया गया है जिसमें सारे विषयों की शैक्षणिक सामग्री भेजी जाएगी. इस ग्रुप में पहली से 12वीं तक की कक्षाओं को शामिल किया गया है. पहली से बारहवीं तक के अंग्रेजी, हिंदी,गणित,विज्ञान और दूसरे विषयों को भी शामिल किया गया है. व्हाट्सऐप ग्रुप में इन विषयों से संबंधित सारी जानकारी टीचर्स छात्र-छात्राओं को भेजेंगे और सारे विषयों की रोजाना तैयारी करवाई जाएगी. सिलेबस से जुड़े हुए वीडियो को भी व्हाट्सऐप ग्रुप में भेजा जाएगा ताकि छात्र छात्राएं वीडियो के माध्यम से भी पढ़ाई कर सकें. रोजाना 10 से 11के बीच शैक्षणिक सामग्री ग्रुप पर भेजी जाएगी.

सीएम शिवराज ने पेरेंट्स से की अपील आप सभी करें सहयोग
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस ऐप को लांच करके छात्र छात्राओं के अभिभावको से भी अपील की है कि वह सभी हमारे शिक्षा परिवार का महत्वपूर्ण हिस्सा है. इसीलिए इस संकट की घड़ी में आप सभी हमारा साथ दें और जो भी टीचर इस ग्रुप के माध्यम से छात्र-छात्राओं को जरूरी विषयों की तैयारी करवा रहे हैं उसमें आप सभी सहयोग करें. टीचर्स के साथ ही पेरेंट्स भी बच्चों की पढ़ाई पर घर पर ध्यान दें. लॉकडाउन के दौरान स्कूलों में पढ़ाया जाने वाला सिलेबस इस व्हाट्सऐप ग्रुप के माध्यम से पूरा करवाया जाएगा. यानी घर बैठे छात्र छात्राओं के जरूरी सारे विषयों की तैयारी करवाई जाएगी. ग्रुप पर टीचर्स के द्वारा भेजी जानी वाली जानकारी को बच्चो से रिवीजन जरूर करवाये. डिजिटल ऐप के माध्यम से हमारा मकसद है इस दौरान बच्चों की पढ़ाई पर असर ना पड़े. टीचर्स के साथ आप सभी बच्चों के विकास में हमारा सहयोग दे. अब किसी भी स्थिति में पढ़ाई रुकेगी नहीं.



रेडियो स्कूल कार्यक्रम की भी हो चुकी है शुरुआत
लॉकडाउन के दौरान रेडियो स्कूल कार्यक्रम की भी शुरुआत की गई है. जिसमें पहली से आठवीं तक के छात्र-छात्राओं की पढ़ाई रेडियो के माध्यम से करवाई जा रही है. हालांकि इसके लिए भी राज्य शिक्षा केंद्र की तरफ से एक व्हाट्सऐप ग्रुप तैयार किया गया है. जिसमें पहली से आठवीं तक के छात्र-छात्राओं की पढ़ाई रेडियो के साथ ही साथ व्हाट्सऐप ग्रुप के माध्यम से भी करवाई जा रही है. जिसमें शिक्षक ऑडियो-वीडियो और विषयों के नोट्स व्हाट्सऐप ग्रुप से छात्र-छात्राओं तक पहुंचा रहे हैं.

ये भी पढ़ें: COVID 19 : भोपाल-इंदौर और उज्जैन की सीमाएं सील, जरूरी सामान की सप्लाई जारी रहेगी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज