अपना शहर चुनें

States

CM शिवराज सिंह चौहान का बड़ा बयान, बोले-'लव जिहाद' जैसा कुछ किया तो बर्बाद हो जाओगे

लव जिहाद को लेकर सीएम शिवराज ने बड़ा बयान दिया है.
लव जिहाद को लेकर सीएम शिवराज ने बड़ा बयान दिया है.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) ने कहा कि कोई भेदभाव नहीं है, लेकिन अगर कोई हमारी बेटियों के साथ कुछ भी करने की कोशिश करता है, तो मैं उन्हें तोड़ दूंगा. 

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 3, 2020, 9:48 PM IST
  • Share this:
भोपाल. उत्तर प्रदेश के मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में लव जिहाद (Love Jihad) कानून की चर्चाओं के बीच मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एक बड़ा बयान दिया है. सीएम शिवराज ने कहा कि सरकार सभी की है. सभी धर्मों और जातियों की. मुख्यमंत्री ने कहा कि कोई भेदभाव नहीं है, लेकिन अगर कोई हमारी बेटियों के साथ कुछ गलत करने की कोशिश करता है, तो मैं उन्हें तोड़ दूंगा. अगर कोई धार्मिक परिवर्तन करता है या 'लव जिहाद' जैसा कुछ करता है, तो आप नष्ट हो जाएंगे.

आपको बता दें कि उत्‍तर प्रदेश सरकार ने अध्‍यादेश के दम पर राज्‍य में लव जिहाद कानून बना दिया है. वहीं, मध्‍य प्रदेश सरकार भी इस पर मंथन कर रही है. वह ही जल्‍द इस पर प्रस्‍ताव लाने वाली है. लव जिहाद पर न सिर्फ शिवराज सिंह चौहान बल्कि मध्‍य प्रदेश के कैबिनेट मंत्री नरोत्‍तम मिश्रा भी बयान दे चुके हैं. इसके अलावा किसानों को लेकर भी मुख्यमंत्री ने एक बड़ा दिया. सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मैंने तय किया है कि जितनी पैदावार किसान की यहां होगी उतनी खरीद ली जाएगी. लेकिन अगर बाहर से कोई आया, अगल-बगल के राज्यों से बेचने या बेचने का प्रयास भी किया तो उसका ट्रक राजसात करवाकर उसे जे़ल भिजवा दिया जाएगा.
कैबिनेट विस्तार पर सीएम शिवराज ने कही ये बातशिवराज मंत्रिमंडल का विस्तार एक बार फिर टलता नजर आ रहा है. गुरुवार को मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान  ने कहा फिलहाल मंत्रिमंडल विस्तार की कोई तारीख तय नहीं है. जब तारीख तय होगी तो फिर मीडिया को इसकी जानकारी दे दी जाएगी. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के इस बयान के बाद यह कयास लगाए जा रहे हैं कि फिलहाल सूबे में मंत्रिमंडल का विस्तार टल गया है. इससे पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के दिल्ली दौरे से लौटने के बाद मध्य प्रदेश में मंत्रिमंडल विस्तार की अटकलें तेज हो गई थीं. कयास लगाए जा रहे थे कि 8 दिसंबर को मंत्रिमंडल विस्तार हो सकता है. इसके पीछे वजह मानी जा रही थी कि राज्यपाल आनंदी बेन पटेल 7 दिसंबर को भोपाल आ रही हैं और यहां से उनका बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व जाने का कार्यक्रम है. ऐसे में 8 तारीख को मंत्रिमंडल विस्तार का कार्यक्रम रखा जा सकता है.

ये भी पढ़ें: BJP का आरोप, केजरीवाल सरकार अपनी राजनीति चमकाने बच्चों का ले रही सहारा



हालांकि इस बारे में अधिकृत तौर पर कोई जानकारी सामने नहीं आई थी. लेकिन जिस तरह से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की पहले ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ भोपाल में चर्चा हुई. उसके बाद दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात हुई, उससे माना यही जा रहा था कि इस दौरान मंत्रिमंडल विस्तार पर चर्चा की गई है. और अब विस्तार अगले हफ्ते किया जा सकता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज