Coronavirus in MP: CM शिवराज सिंह चौहान आज शाम प्रदेश की जनता को करेंगे संबोधित

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शाम को 7 बजे प्रदेश की जनता को संबोधित करेंगे. (फाइल फोटो)

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शाम को 7 बजे प्रदेश की जनता को संबोधित करेंगे. (फाइल फोटो)

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज शाम 7 बजे प्रदेश की जनता को संबोधित करेंगे. प्रदेश सरकार द्वारा कोरोना वायरस महामारी की रोकथाम और उससे निपटने के लिए किये जा रहे प्रबंध चर्चा के साथ ही संक्रमित मरीजों के लिए किए जा रहे प्रयासों की जानकारी भी देंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 26, 2021, 4:11 PM IST
  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज शाम 7 बजे प्रदेश की जनता को संबोधित करेंगे. वे इस संबोधन में प्रदेश सरकार द्वारा कोरोना वायरस महामारी को रोकने के प्रयास और इससे संक्रमित मरीजों के लिए किए जा रहे प्रबंधन की भी जानकारी देंगे. मध्य प्रदेश में आक्सीजन की कमी को दूर करने के लिए लगातार वायुसेना के विमान इंदौर और भोपाल से खाली आक्सीजन टैंकर को भरने के लिए पहुंचा रहे हैं ताकि उनके जाने का समय बच सके.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को बताया था कि अब 5 जिला अस्पतालों में नवीनतम VPSA तकनीक आधारिक ऑक्सीजन प्लांट लगाए जा रहे हैं. उन्होंने बताया कि ये प्लांट भोपाल, रीवा, इंदौर, ग्वालियर और शहडोल में लगेंगे. हर प्लांट की कीमत 1 करोड़ 60 लाख रुपये है. इससे प्रति मिनट 300 से 400 लीटर ऑक्सीजन बनेगा. उन्होंने दावा किया कि एमपी ऐसा करने वाला देश का पहला राज्य है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि PSA तकनीक पर आधारित 8 जिलों में ऑक्सीजन प्लांट लगाने पर भी काम किया जा रहा है. 4 जिलों में PSA प्लांट लगाने का काम शुरू हो गया है.

Youtube Video


बता दें कि मध्यप्रदेश में कोरोना (Corona) से मौतों का आंकड़ा हर रोज बढ़ रहा है. शनिवार को एक दिन में 155 लोगों की जान गई. ये भोपाल (Bhopal) में कोरोना से मौत का अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है. ये सरकारी आंकड़ा नहीं है बल्कि श्मशान घाट और कब्रिस्तान में कोरोना प्रोटोकॉल के तहत किये गए अंतिम संस्कार का ब्यौरा है. सरकारी आंकड़े के मुताबिक, शनिवार को सिर्फ 5 लोगों की मौत होना बतायी गयी है.
शनिवार 24 अप्रैल को कोरोना प्रोटोकॉल के तहत भोपाल में 155 शवों का अंतिम संस्कार किया गया. इस दौरान भदभदा विश्राम घाट में 100 और सुभाष विश्राम घाट में 40 शवों की अंत्येष्टि की गयी. झदा कब्रिस्तान में 15 शवों को दफनाया गया. हालांकि सरकारी आंकड़ों में शनिवार को सिर्फ 5 लोगों की मौत बतायी गयी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज