कैबिनेट विस्तार के बाद पहली बैठक में CM शिवराज ने मंत्रियों को दिए ये 10 टास्क
Bhopal News in Hindi

कैबिनेट विस्तार के बाद पहली बैठक में CM शिवराज ने मंत्रियों को दिए ये 10 टास्क
प्रदेश में बीजेपी सरकार बनने के 99 दिन बाद मंत्रिमंडल का ये बड़ा विस्तार हुआ.

कैबिनेट विस्तार के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की पहली बैठक. COVID-19 को लेकर दी हिदायत.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) ने कैबिनेट विस्तार के बाद आज अपने नए मंत्रिमंडल सहयोगियों के साथ बैठक की. वक्रतुंड महाकाय... श्लोक के साथ बैठक (Cabinet Meeting) की शुरुआत में सीएम शिवराज ने अपने सभी नए सहयोगियों को बधाई दी. साथ ही उन्होंने कैबिनेट को एक परिवार की तरह बताया. साथ ही प्रदेश में कोरोना वायरस (COVID-19) के संक्रमण को देखते हुए मंत्रियों को स्वागत-समारोह के फेर में न पड़ने की सलाह भी दी.

मुख्यमंत्री ने कैबिनेट की बैठक में मंत्रियों से यह भी कहा कि अब सभी लोग काम में जुट जाएं. उन्होंने कहा, 'न मैं चैन से बैठूंगा और न आप लोगो को बैठने दूंगा'. मुख्यमंत्री ने अपने मंत्रिमंडल सहयोगियों को इस बैठक के बाद काम में जुट जाने को कहा, साथ ही उन्हें प्राथमिकता के स्तर पर करने को कुछ काम भी गिनाए.

CM शिवराज ने दिया ये टास्क

1- जो काम प्रदेश की भलाई के लिए हो, वह निर्विध्न रूप से पूरे किए जाएं. हमें परिश्रम की पराकाष्ठा दिखानी होगी.


2- सरकार का एक भी क्षण व्यर्थ न जाए, क्योंकि अब जो क्षण है वो जनता के हैं.
3- आप सब यह तय करें कि कोई भी स्वागत न कराए. कोरोनाकाल चल रहा है, इसलिए स्वागत न करें, भीड़ न जुटाएं.
4- न मैं चैन से बैठूंगा और न आप लोगो को बैठने दूंगा.
5- यह कैबिनेट एक परिवार है. पहले भी कैबिनेट परिवार थी, सरकार भी परिवार की तरह चलाई है.
6- भ्रष्टाचार न करने की हिदायत देते हुए सीएम ने कहा कि पारदर्शी प्रमाणिकता से काम हों.
7- आप लोग काम बहुत करें, मगर तनाव बिलकुल न लें. थोड़ा वक्त अपने लिए भी निकालें.
8- दो दिन भोपाल के लिए रखें, इसके लिए सोमवार-मंगलवार उपयुक्त रहेगा. सोमवार को विभाग की समीक्षा करें, मंगलवार को कैबिनेट बैठक होगी.
9- दिनचर्या और व्यवस्था ऐसी रहे कि काम को और कार्यकर्ताओं के लिए पर्याप्त समय रहे.
10- सीएम ने सभी मंत्रियों से कार्यकर्ताओं को रिस्पांस बराबर देते रहने का भी आग्रह किया.

शिवराज सिंह चौहान के नाम दर्ज कई रिकॉर्ड
प्रदेश में बीजेपी सरकार बनने के 99 दिन बाद मंत्रिमंडल का ये बड़ा विस्तार हुआ. इससे पहले शिवराज कैबिनेट में 5 मंत्री थे. हालांकि उससे पहले शिवराज सिंह चौहान ने अकेले सरकार चलाने का रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया. इसके अलावा सबसे बड़ा रिकॉर्ड 4 बार प्रदेश के मुख्यमंत्री बनने का है. प्रदेश की सत्ता में चार बार मुख्यमंत्री का पद अब तक किसी के खाते में नहीं गया है. प्रदेश में लगातार 10 साल तक मुख्यमंत्री रहने का रिकॉर्ड दिग्विजय सिंह के नाम पर दर्ज था, लेकिन 13 साल तक सत्ता संभालने और अब चौथी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद सारे रिकॉर्ड शिवराज सिंह चौहान के नाम पर दर्ज हो गए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading