• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा करते वक्‍त शिवराज का हेलीकॉप्टर बादलों में फंसते-फंसते बचा, CM ने कही ये बात

बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा करते वक्‍त शिवराज का हेलीकॉप्टर बादलों में फंसते-फंसते बचा, CM ने कही ये बात

सीएम शिवराज ने खुद घटनाक्रम आज बताया.

सीएम शिवराज ने खुद घटनाक्रम आज बताया.

मध्‍य प्रदेश (Madhya Pradesh) में बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरान करने के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) का हेलीकॉप्टर बादलों में फंसते फंसते बच गया. इसके लिए सीएम ने पायलटों का शुक्रिया अदा किया है.

  • Share this:
भोपाल. प्रदेश में भारी बारिश के बीच बाढ़ प्रभावित इलाकों (Flood Affected Areas) का दौरा करने गए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) का हेलीकॉप्टर (Helicopter) बादलों के बीच हादसे का शिकार होते होते बच गया. इससे पहले कोई अनहोनी होती हेलीकॉप्टर के दोनों पायलट ने सूझबूझ दिखाते हुए सीएम शिवराज सिंह से हवाई सर्वे रोककर वापस एयरपोर्ट चलने का अनुरोध किया. यह पूरा वाकया हुआ 29 अगस्त को जब भोपाल समेत पूरे प्रदेश में भारी बारिश हो रही थी. सोमवार को पत्रकारों से बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने खुद इस घटनाक्रम का जिक्र किया. उन्होंने मध्य प्रदेश शासन के दोनों पायलट आदर्श और संजीव श्रीवास्तव का शुक्रिया करते हुए पूरा घटनाक्रम सुनाया. मुख्यमंत्री की मानें तो 29 अगस्त को जब ज्यादातर प्रदेश बाढ़ की चपेट में घिर गया था तो उन्होंने बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा करने का फैसला किया.

सीएम ने कही ये बात
मुख्यमंत्री की इस मंशा को मध्य प्रदेश शासन के दोनों पायलटों ने पूरा करने का जिम्मा उठाया और बारिश के बीच ही सीएम के साथ हेलीकॉप्टर के साथ प्रभावित इलाकों का दौरा करने के लिए निकल पड़े. हेलीकॉप्टर बादलों में पहुंच तो गया, लेकिन तेज बारिश के बीच कुछ बादल ऐसे भी थे जो चार्ज पार्टिकल थे. चार्ज पार्टिकल हेलीकॉप्टर के लिए घातक हो सकते हैं लिहाजा दोनों पायलट ने सीएम को इस बारे में जानकारी दी और फिर सीएम की सहमति के बाद दौरा रद्द कर हेलीकॉप्टर भोपाल वापस आ गया.

कौन कौन था हेलीकॉप्टर में ?
29 अगस्त को प्रदेश में भारी बारिश हुई थी जिसके बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सीहोर और होशंगाबाद के साथ नर्मदा किनारे के गांवों का हवाई सर्वे करने का फैसला किया. बारिश के बीच ही सीएम शिवराज हेलीकॉप्टर में उनके ओएसडी सत्येंद्र खरे, एक पर्सनल सिक्योरिटी जवान, एक न्यूज़ एजेंसी के कैमरामैन और जनसंपर्क के एक कर्मचारी साथ दौरे पर निकल गए थे, लेकिन जैसे ही हेलीकॉप्टर बारिश के बीच बादलों में पहुंचा तो मौसम और ज्यादा बिगड़ गया जिससे हेलीकॉप्टर में बैठे स्टाफ के लोग थोड़ी देर के लिए घबरा गए. हालांकि हेलीकॉप्टर के दोनों पायलट ने सूझबूझ से काम लिया और बारिश के बादलों से हेलीकॉप्टर को बचाते हुए भोपाल एयरपोर्ट पर सुरक्षित लैंड कराया.

सीएम का Thank you कॉल
बाढ़ आपदा के बीच चाहे सीएम शिवराज का हवाई दौरा हो या लोगों को बचाने का काम हेलीकॉप्टर के पायलटों ने अहम भूमिका अदा की है. यही वजह है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने केवल अपने हेलीकॉप्टर के दोनों पायलट को ही शुक्रिया नहीं कहा बल्कि हेलीकॉप्टर में बैठे बैठे ही एटीसी से संपर्क कर मध्य प्रदेश में बाढ़ आपदा के बचाव कार्य में लगे इंडियन एयरफोर्स के सभी पांच हेलीकॉप्टर के पायलट और उनके ग्रुप कैप्टन को भी शुक्रिया कहा है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज