होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /सीएम शिवराज सिंह ने राष्ट्रपति को एमपी आने का दिया न्यौता, ऊर्जा मंत्री से मांगी इस काम की इजाजत

सीएम शिवराज सिंह ने राष्ट्रपति को एमपी आने का दिया न्यौता, ऊर्जा मंत्री से मांगी इस काम की इजाजत

MP के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने आज दिल्ली में राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू से मुलाकात की.

MP के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने आज दिल्ली में राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू से मुलाकात की.

द्रोपदी मुर्मू के राष्ट्रपति बनने के बाद शिवराज सिंह की उनसे दिल्ली में पहली मुलाकात थी. मुख्यमंत्री ने इसे शिष्टाचार भ ...अधिक पढ़ें

दिल्ली. एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज एमपी के दौरे पर थे. यहां उन्होंने राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू और ऊर्जा मंत्री आर के सिंह से मुलाकात की. राष्ट्रपति को मध्य प्रदेश आने का न्यौता दिया और ऊर्जा मंत्री से बिजली लाइनों के मेंटेनेंस के संबंध में चर्चा की.

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू को राज्य में आने का न्यौता दिया. साथ ही राज्य में  विकास की योजनाओं के बारे भी जानकारी दी. इसके अलावा केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आर के सिंह से मुलाकात कर उनसे सितंबर में बिजली लाइनों के मेंटिनेंस की इजाजत मांगी है. उन्हें ओंकारेश्वर में बन रहे फ्लोटिंग बिजली घर के बारे भी ताजा जानकारी दी.

राष्ट्रपति को एमपी आने का न्यौता
द्रोपदी मुर्मू के राष्ट्रपति बनने के बाद शिवराज सिंह की उनसे दिल्ली में पहली मुलाकात थी. मुख्यमंत्री ने इसे शिष्टाचार भेंट करार देते हुए कहा राज्य में कमजोर वर्ग के कल्याण की योजनाओं के बारे में भी राष्ट्रपति से चर्चा हुई है. उन्होंने राष्ट्रपति को मध्य प्रदेश आने का न्यौता दिया है. केंद्रीय ऊर्जा मंत्री से मुलाकात के बाद शिवराज सिंह ने बताया कि बिजली के क्षेत्र में राज्य में अपने नुकसान को 41 फीसदी से घटाकर 20 प्रतिशत कर दिया गया है. बिजली की जरूरत पूरा करने के लिए हवा, नवीकरणीय ऊर्जा और फ्लोटिंग बिजली घर पर जोर दिया जा रहा है.

ओंकारेश्वर में फ्लोटिंग बिजली घर
ओंकारेश्वर में 600 मेगावॉट का फ्लोटिंग बिजली घर बनना है. ये पानी की सतह पर पैनल  होगा और सूरज से बिजली बनाई जाएगी. साथ ही भूमि का उपयोग बचेगा और पानी भाप बनकर भी पूरी तरह से नहीं उड़ेगा. यह दुनिया में पहला फ्लोटिंग बिजली घर होगा. सीएम शिवराज ने इसके काम की पूरी रिपोर्ट आर के सिंह को दी है. छतरपुर, मुरैना में भी सोलर पावर प्लांट शुरू करने जा रहे हैं. बिजली के क्षेत्र में आ रही दिक्कतों के बारे भी केंद्रीय मंत्री से बातचीत हुई है. सीएम ने बताया कि राज्य में बिजली को स्टोर करने और हाइब्रिड बिजली के लिए भी खाका तैयार किया गया है. हाइब्रिड में दिन में सूरज से और रात में हवा से बिजली का उत्पादन किया जाएगा. जरूरत से ज्यादा बनने पर स्टोर करके रखेंगे. उन्होंने बताया बिजली की बैंकिंग यानी ज्यादा होने पर दूसरे राज्यों को दें और नवंबर दिसंबर में बुआई के समय बिजली में मांग बढ़ने पर हमें पर्याप्त बिजली मिले.

पोर्टल में दर्ज हो
शिवराज सिंह ने बताया कि ये तय हुआ है कि पोर्टल में बिजली के बारे में पूरी जानकारी हो. कितनी बिजली दी है और कितनी बिजली है. साथ ही पैसा कितना चुकाया है. यह सब जानकारी राज्य डाल सकें यह आग्रह केंद्र से किया है. शिवराज ने बताया कि सितंबर में पावर प्लांट का मेंटेनेंस करते हैं इसके लिए केंद्र से इजाजत भी मांगी है. मुख्यमंत्री ने बताया कि बिजली के क्षेत्र में आधारभूत ढांचा बना रहे हैं और जो नुकसान बाढ़ से हुआ उसकी भरपाई राज्य खुद ही करेगा.

Tags: CM Shivraj Singh Chauhan, Madhya pradesh latest news

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें