लाइव टीवी

किसान आंदोलनः शांति बहाली के लिए उपवास करेंगे शिवराज, दिग्विजय ने बताया नाटक

ETV MP/Chhattisgarh
Updated: June 9, 2017, 11:09 PM IST
किसान आंदोलनः शांति बहाली के लिए उपवास करेंगे शिवराज, दिग्विजय ने बताया नाटक
Photo- PTI

किसान आंदोलन की आग से झुलस रहे मध्य प्रदेश में शांति बहाली के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शनिवार से अनिश्चितकालीन उपवास करेंगे.

  • Share this:
किसान आंदोलन की आग से झुलस रहे मध्य प्रदेश में शांति बहाली के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शनिवार से अनिश्चितकालीन उपवास करेंगे.

मुख्यमंत्री ने कहा कि वह शनिवार सुबह 11 बजे से राजधानी भोपाल के दशहरा मैदान में अनशन पर बैठेंगे और वहीं से सरकार का संचालन करेंगे. उन्होंने कहा कि इस समस्या के समाधान के लिए वह सभी पक्षों से बातचीत के लिए तैयार हैं.

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि आंदोलन अराजक हो गया है. बच्चों के हाथों में पत्थर थमा दिए गए हैं.

शिवराज के उपवास के लिए भेल (BHEL) के दशहरा मैदान पर तैयारियां शुरू


राजधानी भोपाल में संवाददाताओं से बातचीत में शिवराज ने कहा,

- जब-जब किसानों को कोई समस्या आई या संकट आया मैं किसानों के बीच गया
- 5500 की दर पर मूंग खरीदेंगे
Loading...

- 1000 करोड़ रुपये का किसान सहायता कोष बनाया
- कृषि उत्पाद पर विपणन लागत आयोग का गठन करेंगे
- हम किसानों के लिए समाधान योजना लाने जा रहा है
- मैं किसान के बीच रहता हूं उनकी तकलीफ़ जानता हूं
- कुछ लोगों ने किसानों के आंदोलन को अराजक बनाया
- अराजक तत्वों से सख़्ती से निपटेंगे
- कुछ लोगों ने बच्चों को हाथ में पत्थर बनाया
- हम शांति के पक्षधर हैं, चर्चा के लिए सदैव रास्ते खुले हैं
- शांति बहाली के लिए उपवास करूंगा, वहीं से सरकार चलाउंगा
- चर्चा से हर किसी का स्वागत है
- 75 फीसदी किसान रेगुलर पैसा दे रहे हैं
- बाकी के किसानों के लिए समाधान योजना



वहीं, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने एक ट्वीट कर कहा,  ''आज एक और मंदसौर के नौजवान को मार मार कर पुलिस ने मार डाला। मप्र पुलिस निरंकुश हो गई है और शिवराज शांति के लिए उपवास करने का नाटक कर रहे हैं.''

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 9, 2017, 5:59 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...