• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • क्या BJP में शामिल होने वाले हैं अजय सिंह? पूर्व नेता प्रतिपक्ष ने खुद ही दे दिया जवाब

क्या BJP में शामिल होने वाले हैं अजय सिंह? पूर्व नेता प्रतिपक्ष ने खुद ही दे दिया जवाब

मध्य प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अजय सिंह ने बीजेपी में जाने की अटकलों पर विराम लगा दिया है. (File)

मध्य प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अजय सिंह ने बीजेपी में जाने की अटकलों पर विराम लगा दिया है. (File)

MP News: प्रदेश के वरिष्ठ कांग्रेस नेता अजय सिंह ने बीजेपी में जाने की खबर को सिरे से नकार दिया है. सिंह ने कहा कि किसी से मुलाकात करने का मतलब पार्टी छोड़ना नहीं. सिंह कहते हैं कि मुझे पिता स्व. अर्जुन सिंह से सदभाव की सीख मिली हैं. मैं भी सबको साथ लेकर चलने में विश्वास करता हूं.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह (Ajay Singh) ने बीजेपी में जाने से साफ इनकार कर दिया है. उन्होंने मीडिया में चल रही अटकलों को सिरे से खारिज कर दिया. सिंह ने कहा कि मुझे अपने पिता स्व. अर्जुन सिंह से सदभाव के साथ सबको साथ लेकर चलने की सीख विरासत में मिली है. वे हमेशा अपने आपको कांग्रेस का सिपाही कहते थे. उनके विचारों के विपरीत जाकर मैं आलोचना का भागीदार नहीं बनना चाहता. मैं उन्हीं की परम्परा का निर्वहन करता हूं.

    कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अजय सिंह ने कहा- ‘मैं आत्मा से कांग्रेसी था, कांग्रेसी हूं और कांग्रेसी रहूंगा. जो लोग ऐसा सोच रहे हैं कि मैं बीजेपी में जा सकता हूं, उन सभी से मेरा विनम्र आग्रह है कि वे इस कल्पनाशील विचार को त्याग दें. मेरी प्रतिबद्धता कांग्रेस पार्टी के साथ है.’ सिंह का कहना है कि उनके पिता ने हमेशा प्रतिपक्ष का सम्मान किया है. प्रतिपक्ष के सुझावों को वे हमेशा ध्यान से सुनते थे और आलोचनाओं से कभी विचलित नहीं होते थे. लोकतंत्र की स्वस्थ परम्पराओं का उन्होंने हमेशा पालन किया. भले ही विचारधाराएं अलग-अलग हों, लेकिन उन्होंने प्रदेश के विकास में इसे कभी आड़े आने नहीं दिया. यही कारण है कि प्रदेश में भाजपा सरकार के समय केंद्रीय मंत्री के रूप में उन्होंने मध्य प्रदेश को जो दिया वह हमेशा याद किया जाएगा. मैंने अपने राजनीतिक जीवन में उनसे बहुत सीखा है.

    सौजन्यता का मतलब पार्टी छोड़ना नहीं – सिंह

    पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा कि जब मैं मंत्री था तब बीजेपी के कई विधायक क्षेत्र के काम से मुझसे मिलने आते थे. मैं सहर्ष उनकी समस्याओं को हल करता था. उनमें कई अभी वर्तमान में मंत्री हैं. इसी तरह मैं भी अपने क्षेत्र की समस्याओं और जनता के काम लेकर भाजपा सरकार के मंत्रियों से मिलता रहता हूं. कई बार एक-दूसरे से  सौजन्य भेंट होती रहती है. प्रतिपक्ष दुश्मन तो नहीं होता. लोकतंत्र में वैमनस्य का कोई स्थान नहीं. इस सौजन्यता का यह अर्थ कतई नहीं लगाना चाहिए कि मैं कांग्रेस छोड़ रहा हूं. यह सिर्फ एक परिकल्पना मात्र है.

    इसलिए लग रहीं अटकलें

    दरअसल, 23 सितंबर को गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कांग्रेस नेता अजय सिंह के घर पहुंचकर हलचल और बढ़ा दी. मौका भले ही अजय सिंह के जन्मदिन का था, लेकिन ये औपचारिक मेल मुलाकात से ज्यादा सियासी लगा. कांग्रेस के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह का आज जन्मदिन है. उनके घर पर बधाई देने वालों का सुबह से तांता लगा हुआ है. मेहमानों के बीच जिसने सबका ध्यान खींच लिया वो खास मेहमान रहे प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा. उन्होंने अजय सिंह के घर पहुंचकर जन्मदिन की बधाई दी. चर्चा और अटकलों को बल इसलिए मिल रहा है क्योंकि 2 दिन पहले ही अजय सिंह ने नरोत्तम मिश्रा के घर जाकर उनसे मुलाकात की थी. दोनों के बीच अकेले में करीब 40 मिनट तक गुफ्तगू हुई थी. लेकिन मीडिया के सामने दोनों ने कोई बयान नहीं दिया. इसलिए अजय सिंह के बीजेपी में जाने की अटकलें तेज हो गईं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज