एमपी में कर्नाटक और गुजरात की गलती नहीं दोहराना चाहती कांग्रेस

Makarand Kale | News18 Madhya Pradesh
Updated: November 15, 2018, 1:41 PM IST
एमपी में कर्नाटक और गुजरात की गलती नहीं दोहराना चाहती कांग्रेस
कमलनाथ और राहुल गांधी (File Photo)

कांग्रेस अब हर कदम फूंक-फूंक कर रख रही है. कांग्रेस सूत्रों की मानें तो पार्टी इस बार गुजरात और कर्नाटक की गलती दोहराना नहीं चाहती

  • Share this:
मध्य प्रदेश में कांग्रेस और बीजेपी धुआंधार प्रचार में जुटीं है. प्रदेश स्तर पर कांग्रेस के भी तमाम बड़े नेता कमज़ोर विधानसभाओं में पार्टी को मज़बूत करने में लगे हैं. हालांकि कांग्रेस अब हर कदम फूंक-फूंक कर रख रही है. कांग्रेस सूत्रों की मानें तो पार्टी इस बार गुजरात और कर्नाटक की गलती दोहराना नहीं चाहती. यही वजह है कि कांग्रेस ने कैंपेन को आखिरी दिन तक जारी रखने का प्लान बनाया है. गुजरात और कर्नाटक में कांग्रेस आखिरी दिनों में कमज़ोर पड़ गई जिसका फायदा बीजेपी ने उठाया. (इसे पढ़ें- मध्य प्रदेश चुनाव 2018: क्या उमा भारती की घरवापसी का रास्ता खुल रहा है?)

दरअसल, संघ के मुद्दे को मेनिफेस्टो में शामिल करने का दांव पार्टी पर उल्टा पड़ गया. लिहाज़ा पार्टी अब हर कदम फूंक-फूंक कर उठा रही है. पीसीसी चीफ कमलनाथ हों या फिर चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया इन दोनों चेहरों पर कांग्रेस दांव लगा रही है. वहीं अपने अपने क्षेत्रों में क्षत्रप धुआंधार प्रचार में लगे हैं. ऐसे में कांग्रेस किसी तरह की गलती को दोहराना नहीं चाहती.

1- संघ का मामला उछलने के बाद कांग्रेस मुद्दों को लेकर सावधानी बरत रही है
2- कांग्रेस इस बार आखिरी दिनों तक प्रचार अभियान को जारी रखेगी

3- कांग्रेस ने गुजरात और कर्नाटक में आखिरी दिनों में प्रचार धीमा कर दिया था
4- कांग्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक गुजरात और कर्नाटक में आखिरी कुछ घंटों में बीजेपी ने पूरी ताकत लगा दी.
5- एमपी कांग्रेस के लिए अच्छी बात ये है कि इस बार टिकट बंटवारे के बाद गुटबाज़ी कम देखने को मिली है.
Loading...

कांग्रेस मीडिया सेल की चेयरमैन शोभा ओझा का कहना है कि कांग्रेस पूरी दम के साथ प्रचार अभियान में उतरी है, जनता की नाराज़गी का फायदा कांग्रेस को मिलेगा. उन्होंने कहा कि जनता एक साल से मन बना चुकी है कि बीजेपी की सरकार को उखाड़ फेंकना है. कांग्रेस आखिरी दिन तक प्रचार करेगी ताकि इस सरकार को सत्ता से बेदखल किया जा सके.

जबकि बीजेपी के प्रवक्ता राजपाल सिसोदिया के मुताबिक एक मात्र पंजाब में कांग्रेस ने राहुल गांधी को घुसने नहीं दिया जिसके चलते वो जीतने में कामयाब हुए. जहां भी राहुल गांधी जाएंगे कांग्रेस हार जाएगी. वहीं बीजेपी प्रवक्ता राजपाल सिसोदिया का कहना है कि कांग्रेस अपना घर देखे, पंजाब में कांग्रेस ने राहुल को आने नहीं दिया तो जीत गए, राहुल जहां जाते हैं वहां कांग्रेस हार जाती है.

अब कांग्रेस अपनी पुरानी गलतियों को दोहराना नहीं चाहती है न ही उनके नुकसान की वजह को एक बार फिर दोहराना चाहती है. यही वजह है कि कांग्रेस जनता के गुस्से को बरकरार रखकर जीतना चाहती है. साथ ही कांग्रेस किसी भी ऐसे मुद्दे को अब हवा नहीं देना चाहती जो उनके लिए भारी पड़ जाए.

यह पढ़ें- चुनाव का सीन साफ होने के बाद कांग्रेस-बीजेपी का एक्शन, अब तक 61

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 15, 2018, 1:40 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...