शिवराज की मंत्री के विवादित बयान पर चुनाव आयोग पहुंची कांग्रेस, पहले कमलनाथ दे चुके हैं धरना

इससे पहले शिवराज की इस मंत्री ने जयस को आतंकवादी संगठन कह दिया था.बाद में माफी मांगनी पड़ी थी.
इससे पहले शिवराज की इस मंत्री ने जयस को आतंकवादी संगठन कह दिया था.बाद में माफी मांगनी पड़ी थी.

एमपी की आध्यात्म विभाग की मंत्री उषा ठाकुर (Usha Thakur) के बयान पर कांग्रेस नेता जीतू पटवारी (Jitu Patwari) ने कहा- बीजेपी (BJP) ने लोकतंत्र की हत्या कर सत्ता हथियायी है. अब उनके मंत्रियों के बयान बताते हैं कि बीजेपी विपक्ष को खत्म कर लोकतंत्र की हत्या करना चाहती है.

  • Share this:
 भोपाल.शिवराज सरकार (Shivraj government) में मंत्री उषा ठाकुर की आज कांग्रेस (Congress) ने चुनाव आयोग (Election Commission) में शिकायत कर दी. कांग्रेस ने उन्हें मंत्रिमंडल से हटाने की भी मांग की है. शिवराज सरकार में आध्यात्म जैसा विभाग संभाल रही ठाकुर ने कांग्रेस को देशद्रोही कह दिया था.

कैबिनेट मिनिस्टर उषा ठाकुर ने अपने बयान में कहा था, प्रदेश का उपचुनाव वैचारिक युद्ध है. यह देशभक्त और देशद्रोहियों के बीच चुनाव है. जिन्हें राष्ट्रवाद से प्रेम था वह बीजेपी के साथ हैं. जो राष्ट्रवाद से विमुख हो गए, वह कांग्रेस के साथ हैं. ठाकुर यहीं नहीं रुकीं,हाल ही में बीजेपी छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए पारुल साहू और कन्हैयालाल अग्रवाल की देशभक्ति के सवाल पर वो बोलीं- हां वह भी देशद्रोही हैं. और उन्हें विचार करना चाहिए था. ऊषा ठाकुर ने कहा बीजेपी वैचारिक अनुष्ठान के लिए राजनीति करती है.





चुनाव आयोग में शिकायत
मंत्री ऊषा ठाकुर के इस गैर जिम्मेदाराना और आपत्तिजनक बयान के खिलाफ कांग्रेस चुनाव आयोग चली गयी है. उसने उषा ठाकुर के बयान का हवाला देते हुए ठाकुर की आयोग से शिकायत की और उन्हें मंत्रिमंडल से हटाने की मांग की.

बीजेपी ने लोकतंत्र की हत्या की
मंत्री उषा ठाकुर के इस बयान पर कांग्रेस गुस्से से भर गयी. पूर्व मंत्री और कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी ने कहा कि उषा ठाकुर के बयान से बीजेपी की लोकतंत्र विरोधी मानसिकता जगजाहिर हो गई है. बीजेपी ने लोकतंत्र की हत्या कर सत्ता हथियायी है. और अब उनके मंत्रियों के बयान बताते हैं कि बीजेपी विपक्ष को खत्म कर लोकतंत्र की हत्या करना चाहती है.

पहले जयस को आतंकवादी संगठन कहा था
ये पहला मामला नहीं है जब प्रदेश की मंत्री उषा ठाकुर ने कोई विवादित बयान दिया है. इससे पहले हाल ही में उन्होंने जय आदिवासी युवा शक्ति संगठन जयस को आतंकवादी संगठन कह दिया था. इसके विरोध में जयस नेता और कांग्रेस विधायक डॉ हीरालाल अलावा के साथ खुद पूर्व सीएम कमलनाथ विधान सभा परिसर में धरने पर बैठे थे. बाद में ठाकुर को माफी मांगना पड़ी थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज