अपना शहर चुनें

States

मुरैना ज़हरीली शराब कांड : कांग्रेस ने भी बनाया जांच दल, पीड़ित परिवारों के लिए मुआवज़े की मांग

पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने पीड़ित परिवारों को 50 लाख रुपए की मदद देने की मांग की है.
पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने पीड़ित परिवारों को 50 लाख रुपए की मदद देने की मांग की है.

कांग्रेस (Congress) ने मुरैना में जहरीली शराब पीने से 20 लोगों की मौत को दुखद बताया है और इस पूरे मामले के लिए सरकार (Government) को जिम्मेदार ठहराया है.

  • Share this:
भोपाल.मुरैना (Morena) में ज़हरीली शराब पीने से मरने वालों की संख्या 20 हो गयी है. कांग्रेस (Congress) ने घटना की जांच के लिए 6 सदस्यों की समिति बनाकर पीड़ित परिवारों को 50 लाख रुपए के मुआवजे की मांग की है. उधर सरकार ने भी अफसरों का एक जांच दल बना दिया है.

मुरैना में ज़हरीली शराब पीने से 20 लोगों की मौत के बाद प्रदेश में सियासी घमासान मच गया है. कांग्रेस पार्टी ने घटना की जांच के लिए 6 सदस्यीय जांच कमेटी का गठन किया है, जो मौके पर जाकर पीड़ित परिवार से मिलेगी और पूरे मामले की रिपोर्ट प्रदेश कांग्रेस कमेटी को सौंप देगी. कांग्रेस ने जो समिति बनाई है उसमें विधायक बैजनाथ कुशवाहा, विधायक अजब सिंह कुशवाह, विधायक राकेश मावई, विधायक रविंद्र सिंह तोमर, किसान कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष दिनेश गुर्जर, मुरैना शहर कांग्रेस के जिला अध्यक्ष दीपक शर्मा को शामिल किया गया है. कांग्रेस ने मुरैना में जहरीली शराब पीने से 20 लोगों की मौत को दुखद बताया है और इस पूरे मामले के लिए सरकार को जिम्मेदार ठहराया है.इस मामले में पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने पीड़ित परिवारों को 50 लाख रुपए की मदद देने की मांग की है.

सरकार ने बनायी समिति
राज्य सरकार ने भी ज़हरीली शराब कांड की जांच के लिए तीन सदस्यीय जांच कमेटी का गठन कर दिया है. प्रदेश के वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा ने बताया कि मामले की जांच के लिए एडिशनल कमिश्नर अशोक चौहान, डीआईजी राजेश हिंगणकर और डिप्टी कमिश्नर एक्साइज शेलेश सिंह को जांच की जिम्मेदारी सौंपी गई है. जांच कमेटी जल्दी अपनी रिपोर्ट राज्य सरकार को देगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज