लाइव टीवी

कांग्रेस को EVM पर भरोसा नहीं, स्थानीय निकाय चुनाव बैलेट पेपर से कराने की मांग

Anurag Shrivastav | News18 Madhya Pradesh
Updated: January 14, 2020, 5:08 PM IST
कांग्रेस को EVM पर भरोसा नहीं, स्थानीय निकाय चुनाव बैलेट पेपर से कराने की मांग
कांग्रेस ने स्थानीय निकाय चुनाव में बैलेट पेपर की मांग की

पिछले विधान सभा (assembly) और लोकसभा चुनाव (lok sabha election) में भी कांग्रेस ने ईवीएम (EVM) की जगह बैलेट पेपर से चुनाव कराने की मांग रखी थी.जिसे आयोग ने खारिज कर दिया था.

  • Share this:
भोपाल.कांग्रेस ने फिर EVM की निष्पक्षता पर सवाल उठाए हैं.इस बार उसने स्थानीय निकाय चुनाव बैलेट पेपर से कराने की मांग की है.पार्टी के एक प्रतिनिधि मंडल ने भोपाल (Bhopal) में राज्य निर्वाचन आयोग के दफ्तर में आयुक्त से मुलाकात कर अपनी बात रखी.

मध्य प्रदेश में होने वाले नगरीय निकाय चुनाव को लेकर सरगर्मी तेज है.बीजेपी और कांग्रेस ने अपने अपने पांसे फेंकना शुरू कर दिया है.कांग्रेस ने आज पंचायत और निकाय चुनाव की प्रक्रिया को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग के दफ़्तर पहुंचकर आयुक्त को ज्ञापन दिया.कांग्रेस ने ये चुनाव EVM की जगह बैलेट पेपर से कराने की मांग की है.

छत्तीसगढ़ का उदाहरण
कांग्रेस के मुताबिक छत्तीसगढ़ में भी निकाय के चुनाव ईवीएम के जगह बैलेट पेपर से कराए गए हैं. वहां चुनाव की प्रक्रिया शांतिपूर्ण तरीके से पूरी हुई है और अब प्रदेश में भी निकाय चुनाव छत्तीसगढ़ की तर्ज पर होना चाहिए.

कांग्रेस की आपत्ति
पिछले विधान सभा और लोकसभा चुनाव में भी कांग्रेस ने ईवीएम की जगह बैलेट पेपर से चुनाव कराने की मांग रखी थी.जिसे आयोग ने खारिज कर दिया था.हालांकि विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को ज्यादा सीटें मिल गयीं तो वो ईवीएम की निष्पक्षता के मामले में चुप हो गयी थी. लेकिन लोकसभा चुनाव में हारी तो फिर उसने वही पुरानी मांग दोहरानी शुरू कर दी.

लोकसभा चुनाव में EVM पर संदेहझारखंड के चुनाव में कांग्रेस गठबंधन की जीत पर प्रदेश के मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने कहा था कि विधानसभा चुनाव में नही बल्कि लोकसभा चुनाव में ईवीएम की निष्पक्षता सवालों के घेरे में रहती है. कांग्रेस पार्टी चाहती है प्रदेश में निकाय के चुनाव बैलेट पेपर से ही हों.कांग्रेस के संगठन प्रभारी चंद्रप्रभाष शेखर ने कहा कांग्रेस ने अपनी मांग को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग को ज्ञापन दिया है. फैसला अब आयोग को करना है.

कांग्रेस की मांग पर बीजेपी को आपत्ति
बीजेपी ने कहा जिन राज्यों में कांग्रेस की सरकार आई है. वहां भी ईवीएम से ही नतीजे आए हैं.कांग्रेस जनादेश का अपमाम करना चाहती है.कांग्रेसी अंधेरे में चुनाव कराकर कह दें कि उन्हें बहुमत मिल गया.बहरहाल प्रदेश में अब पंचायत और नगरीय निकाय चुनाव किस पैटर्न पर होंगे..इसका फैसला राज्य निर्वाचन आयोग को लेना है.

ये भी पढ़ें-पटवारी भर्ती परीक्षा के वेटिंग उम्मीदवारों को नियुक्ति का इंतज़ार

शहडोल अस्पताल में 12 घंटे में 6 नवजात की मौत, प्रशासन पर उठे सवाल

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 14, 2020, 5:08 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर