Home /News /madhya-pradesh /

मंत्री नहीं बनाए जाने से नाराज हीरालाल अलावा, राहुल गांधी से मांगा समय

मंत्री नहीं बनाए जाने से नाराज हीरालाल अलावा, राहुल गांधी से मांगा समय

हीरा अलावा (File Photo)

हीरा अलावा (File Photo)

हीरालाल अलावा ने न्यूज़ 18 से की बातचीत में कहा कि कांग्रेस ने सरकार में शामिल करने का वायदा किया था. राहुल से मुलाकात के बाद वे आगे की रणनीति तय करेंगे

    मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार में 28 कबिनेट मंत्रियों ने शपथ ली. इसके बाद विधायकों के असंतुष्ट होने का सिलसिला शुरू हो गया है. इसी क्रम में जयस के हीरालाल अलावा की भी नाराजगी सामने आई है. जानकारी के अनुसार उन्होंने कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से मिलने का समय मांगा है. (इसे पढ़ें- सुर्खियों में छाई 'टीम कमलनाथ', एक साथ 28 को बनाया कैबिनेट मंत्री)

    दरअसल, हीरालाल अलावा मंत्री न बनने से नाराज बताए जा रहे हैं. उन्होंने राहुल गांधी से मुलाकात के लिए समय मांगा है. हीरालाल अलावा ने न्यूज़ 18 से की बातचीत में कहा कि कांग्रेस ने सरकार में शामिल करने का वायदा किया था. राहुल से मुलाकात के बाद वे आगे की रणनीति तय करेंगे.

    बता दें कि हीरालाल अलावा ने धार जिले की मनावर सीट से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव जीता है. इससे पहेल भी उन्होंने ट्वीट कर अपनी नाराजगी जाहिर की थी. उन्होंने लिखा था, 'जयस ने मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनाने में बड़ी भूमिका निभाई है. वादे के मुताबिक जयस की भागीदारी सरकार में होनी चाहिए. जयस को अनदेखा करना कांग्रेस बड़ी भूल होगी.'



    इससे पहले जयस के अध्यक्ष और कांग्रेस से विधायक हीरा अलावा ने गुरुवार को मंत्रालय में मुख्यमंत्री कमलनाथ से मिलकर मंत्रिमंडल में जगह देने की मांग की है. पेशे से डॉक्टर अलावा ने चिकित्सा शिक्षा मंत्री बनाए जाने की मांग की थी. अलावा ने मुख्यमंत्री कमलनाथ से कहा था कि संगठन की उम्मीद है कि जयस को मंत्रिमंडल में शामिल किया जाए.

    यह पढ़ें- कमलनाथ कैबिनेट: अब होगा विभागों का बंटवारा, वित्त अपने पास रख सकते हैं सीएम

    Tags: Kamal nath, Madhya pradesh elections, Madhya pradesh news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर