शिवराज मंत्रिमंडल विस्तार : कांग्रेस सांसद बोले-अनैतिक रूप से सत्ता में आने पर शुभकामनाएं नहीं दी जातीं
Bhopal News in Hindi

शिवराज मंत्रिमंडल विस्तार : कांग्रेस सांसद बोले-अनैतिक रूप से सत्ता में आने पर शुभकामनाएं नहीं दी जातीं
कांग्रेस सांसद विवेक तन्खा ने नये मंत्रियों को बधाई दी लेकिन शुभकामनाएं नहीं दीं

ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) पर कटाक्ष करते हुए विवेक तन्खा (vivek tankha) ने कहा कि अतीत में जाकर सोचता हूं कि क्या माधराव सिंधिया ऐसा करते?

  • Share this:
दिल्ली.कांग्रेस (congress) के राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा (vivek tankha) ने शिवराज सिंह सरकार के मंत्रिमंडल विस्तार (cabinet expansion) पर बधाई तो दी, मगर किसी को शुभकामनाएं नहीं दीं. उन्होंने कहा अनैतिक रूप से सत्ता में आने वालों को शुभकामनाएं नहीं दे सकता.उन्होंने उपचुनाव के लिए कांग्रेस को सलाह और नसीहत भी दी.

क्या माधवराव ऐसा करते?
ज्योतिरादित्य सिंधिया पर कटाक्ष करते हुए विवेक तन्खा ने कहा कि अतीत में जाकर सोचता हूं कि क्या माधराव सिंधिया ऐसा करते?उन्होंने कहा मंत्रिमंडल के सभी सदस्यों को बधाई दे रहा हूं मगर, शुभकामनाएं नहीं क्योंकि वह लोग नैतिकता से सत्ता में नहीं आए हैं. यह चुनी हुई सरकार नहीं है, बल्कि बनी हुई सरकार है. चुनी हुई सरकार को शुभकामनाएं देता हूं, बनी हुई सरकार को शुभकामनाएं नहीं देता.
मिली-जुली सरकार का भविष्य नहींशिवराज सिंह की सरकार पर हमला करते हुए विवेक तन्खा ने कहा कि यह मिली जुली सरकार है. इसका कोई जनादेश नहीं है. सत्ता में आने के लिए यह सरकार बनी है. भाजपा ने सरकार बनाई है, और बनी हुई सरकार का जीवन लंबा नहीं होता है.क्या ये चंबल की सरकार हैकांग्रेस सांसद ने ग्वालियर-चंबल के सिवाय बाकी इलाकों को तरजीह न मिलने पर आपत्ति जताई. उन्होंने कहा, क्या भाजपा भूल गई की महकौशल, विंध्य, नर्मदा बेल्ट भी म प्र का अंग हैं.नये मंत्रिमंडल में जबलपुर, नरसिंघपुर, होशंगाबाद,मंड्ला, डिंडोरी, दमोह, छिन्दवाड़ा,बालाघाट लगभग पूरा साफ़ है.क्या यह ग्वालियर चम्बल और मालवा की सरकार है.यह सौतेला व्यवहार बिलकुल मंज़ूर नहीं है.इसके परिणाम बेहद दूर गामी होंगे.




सत्ता में आने पर भूली कांग्रेस
कांग्रेस के राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा ने कहा अफसोस इस बात का है कि 15 साल बाद कांग्रेस सत्ता में लौटी थी. सिविल सोसाइटी के लोगों ने व्यापम, मंदसौर के किसानों की लड़ाई लड़ी और कांग्रेस इन सबके कंधों के सहारे सत्ता में आई थी और कांग्रेस फिर उन्हीं लोगों को भूल गई. कांग्रेस को इन सब बातों को याद रखना होगा.

अपनों के बजाए, अच्छे उम्मीदवार चुने कांग्रेस
कांग्रेस के राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा ने कांग्रेस को सलाह और नसीहत दोनों दी. उन्होंने कांग्रेस को सलाह देते हुए कहा उप चुनाव में अगर अच्छे उम्मीदवार चुने गए और किस खेमे से है इस परंपरा को छोड़ दिया और नैतिकता के आधार पर चुनाव हुआ तो कांग्रेस एक तरफा जीत दर्ज करेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading