कभी कमलनाथ ने दिया था टिकट, अब उन्हीं पर कांग्रेस को बर्बाद करने के लगा रहे आरोप 
Bhopal News in Hindi

कभी कमलनाथ ने दिया था टिकट, अब उन्हीं पर कांग्रेस को बर्बाद करने के लगा रहे आरोप 
कांग्रेस के बागी विधायक ऐंदल सिंह कंसना ने कमलनाथ पर लगाया आरोप

ऐंदल सिंह कंसाना उसी ग्वालियर चंबल (gwalior-chambal) संभाग से आते हैं जहां 24 सीटों का उपचुनाव (byelections) सबसे दिलचस्प होने जा रहा है. मध्य प्रदेश में जिन 24 सीटों पर उपचुनाव होना है उनमें से 16 सीटें अकेले ग्वालियर चंबल संभाग की हैं.

  • Share this:
भोपाल.कांग्रेस (congress) से बगावत कर बीजेपी (bjp) का दामन थामने वाले बागी विधायकों को अब कमलनाथ में ही खामियां नज़र आ रही हैं.ऐसे ही बागियों में से एक एदल सिंह कंसाना ने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (kamalnath) पर जमकर हमला बोला है.कंसाना तो यहां तक कह गए कि कांग्रेस को बर्बाद करने में कमलनाथ का बड़ा हाथ है. आज कांग्रेस जिस मोड़ पर खड़ी है उसके लिए पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ही जिम्मेदार हैं.

न्यूज़ 18 से खास बातचीत करते हुए कंसाना ने कहा जो लोग हम पर बीजेपी से डील करने के आरोप लगा रहे हैं उन्हें खुद अपने गिरेबां में झांक कर देखना चाहिए. 15 महीने में कमलनाथ ने विधायकों को मिलने तक का वक़्त नहीं दिया. ज्योतिरादित्य सिंधिया जैसे बड़े नेताओं का अपमान किया गया. कांग्रेस सरकार बनाने में मुरैना जिले का अहम योगदान था. लेकिन मुरैना का अपमान किया गया. 15 महीने में सिर्फ छिंदवाड़ा का विकास हुआ.

उपचुनाव में मिलेगा जवाब
पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ में बागी विधायकों पर बीजेपी से डील करने के आरोप लगाए थे. ऐदल सिंह कंसाना ने उन पर डील करने और उपचुनाव हारने के दिग्विजय सिंह और बाकी कांग्रेस नेताओं के बयानों पर भी जवाब दिया. कंसाना का दावा है कि ग्वालियर चंबल की 16 में से 16 सीट बीजेपी जीतेगी. कांग्रेस और कमलनाथ किस बात पर यहां लड़ेंगे चुनाव ? शिवराज, सिंधिया, नरोत्तम इनके मुकाबले आखिर कांग्रेस में कौन चेहरा है ? कंसाना का कहना है वक़्त बता देगा आखिर जनता किसके साथ खड़ी है.



ग्वालियर चंबल है अहम


ऐंदल सिंह कंसाना उसी ग्वालियर चंबल संभाग से आते हैं जहां 24 सीटों का उपचुनाव सबसे दिलचस्प होने जा रहा है. मध्य प्रदेश में जिन 24 सीटों पर उपचुनाव होना है उनमें से 16 सीटें अकेले ग्वालियर चंबल संभाग की हैं. पिछले चुनाव में कांग्रेस यहां ज़बरदस्त तरीके से जीतकर लौटी थी. और मार्च में यहीं से सबसे ज्यादा कांग्रेस विधायकों ने पार्टी से बगावत कर बीजेपी का दामन थामा था. यह इलाका ज्योतिरादित्य सिंधिया के प्रभाव वाला इलाका माना जाता है. ऐसे में अब यह देखना दिलचस्प होगा कि अपनी ही पार्टी के बागियों के खिलाफ कांग्रेस किन चेहरों को मैदान में उतारती है.

ये भी पढ़ें-

माफिया बेखौफ:ज़ब्त रेत चुराकर भाग रहे थे बदमाशों ने मीडियाकर्मियों को धमकाया

शहडोल में स्कूली छात्रा की रेप के बाद हत्या, झाड़ियों में पड़ी मिली लड़की
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading