लाइव टीवी

कांग्रेस के बागी विधायकों का Video वायरल : बोले- दिग्विजय सिंह के कारण हम भोपाल से भागे
Bhopal News in Hindi

News18 Madhya Pradesh
Updated: March 18, 2020, 1:27 PM IST
कांग्रेस के बागी विधायकों का Video वायरल :  बोले- दिग्विजय सिंह के कारण हम भोपाल से भागे
कांग्रेस के बागी MLA बोले-हम दिग्विजय सिंह के कारण भोपाल छोड़कर बेंगलुरु आए.

सिंधिया समर्थक कांग्रेस के बागी विधायकों ने दिग्विजय सिंह के खिलाफ खुलकर निकाली भड़ास. वायरल वीडियो में मनोज चौधरी, बिसाहूलाल, इमरती देवी समेत कई विधायकों ने कमलनाथ सरकार के मौजूदा संकट का आरोप दिग्विजय सिंह पर लगाया.

  • Share this:
भोपाल. कांग्रेस के बागी सिंधिया समर्थक विधायकों ने दिग्विजय सिंह (digvijay singh) से मिलने से इंकार कर दिया है. विधायकों के वीडियो सोशल मीडिया पर रिलीज हुए हैं जिसमें वो साफ कह रहे हैं कि दिग्विजय सिंह ने कांग्रेस का बंटाधार कर दिया. हम उनकी वजह से भागकर यहां आए हैं. हमें दिग्विजय सिंह से नहीं मिलना. दिग्विजय सिंह इन विधायकों से मिलने बेंगलुरु गए हैं, जहां पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया था. हालांकि बाद में उन्हें रिहा कर दिया गया. इस बीच कांग्रेस छोड़ बीजेपी में जा चुके बिसाहूलाल सिंह ने कर्नाटक डीजीपी को पत्र लिखकर अपनी सुरक्षा की मांग की है.

बेंगलुरु में रह रहे सिंधिया समर्थक कांग्रेस के बागी विधायकों के एक साथ अलग-अलग वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं. इसमें सभी विधायक अलग-अलग तरीके से अपनी बात रख रहे हैं. लेकिन सबका एक ही संदेश है कि हम अपनी मर्ज़ी से यहां आए हैं और हमें दिग्विजय सिंह से नहीं मिलना.

दिग्विजय पहले सड़क देखकर आएं



हाट पिपल्या से विधायक मनोज चौधरी इस वीडियो में कह रहे हैं कि वो अपनी मर्जी से यहां आए हैं. वो दिग्विजय सिंह से मिलने के लिए तैयार हैं. लेकिन उससे पहले दिग्विजय सिंह उनके निर्वाचन क्षेत्र की तमाम सड़कों को देखकर आएं. उन किसानों से मिलकर आएं जिन पर झूठे केस लाद दिए गए हैं.



अनूपपुर से विधायक बिसाहूलाल कह रहे हैं कि मैं 40 साल से दिग्विजय सिंह को अपना नेता मानते आ रहा हूं. पार्टी में वरिष्ठ होने के नाते मैं मंत्री पद का स्वाभाविक दावेदार था. लेकिन दिग्विजय सिंह के भाई-भतीजावाद के कारण मुझे मंत्री नहीं बनाया गया. वो अपने बयान में राहुल गांधी तक का हवाला दे रहे हैं.

मर्ज़ी से आए हैं मर्ज़ी से जाएंगे

इसी तरह एक वीडियो में विधायक कमलेश का कहना है- हम लोग स्वेच्छा से आए हैं. स्वेच्छा से जाएंगे. कांग्रेस के बड़े नेता आए हैं. लेकिन अब ये फालतू क्यों परेशान हो रहे हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि ये नेता क्षेत्र की जनता का कोई काम नहीं कर रहे थे. इसलिए अब ये वापस चले जाएं.

कांग्रेस के अन्य बागी विधायक सुरेश धाकड़ बोले- मैं अपनी मर्जी से यहां आया और अपना इस्तीफा भेजा. दिग्गी यहां आए हैं, लेकिन इन्हीं की वजह से कांग्रेस की नैया डूबी है. हम इनसे नहीं मिलना चाहते.

इमरती देवी बोलीं- कांग्रेस बर्बाद कर दी

महिला विधायक इमरती देवी का कहना है- मैं मंत्री रही हूं. अभी पता चला है कि दिग्विजय सिंह आए हैं. लेकिन हम दिग्विजय सिंह की वजह से ही भोपाल से भागे हैं. उन्होंने पूरी कांग्रेस बर्बाद कर दी. ऐसी कांग्रेस में हम नहीं रहना चाहते, जहां दिग्विजय सिंह हों. करेरा विधायक ने भी यही आरोप लगाया कि दिग्विजय सिंह की वजह से कांग्रेस की ये दुर्गति हुई है. उन्होंने कर्नाटक सरकार से अपने लिए सुरक्षा की मांग की.

इस वजह से कांग्रेस का बंटाधार

कमलनाथ सरकार में स्वास्थ्य मंत्री रहे तुलसी सिलावट ने कहा, मैं स्वास्थ्य मंत्री था. स्वयं की इच्छा से यहां आया हूं, दिग्गी आए हैं, लेकिन हमें उनसे नहीं मिलना. ग्वालियर विधायक मुन्ना लाल गोयल बोले- दिग्विजय सिंह ने कांग्रेस का बंटाधार कर दिया. रघुराज सिंह कंसना ने भी कहा कि दिग्विजय सिंह की वजह से ही ये सरकार गई है.

बिसाहूलाल ने कर्नाटक डीजीपी को लिखा पत्र

बिसाहूलाल ने कर्नाटक पुलिस महानिदेशक को पत्र लिख दिया है. उसमें उन्होंने सुरक्षा मुहैया कराने की मांग की है. बिसाहूलाल ने लिखा कि मुझे पता चला है कि कांग्रेस के कुछ नेता मुझसे मिलने आए हैं. लेकिन मैं किसी से नहीं मिलना चाहता. मेरी सुरक्षा की व्यवस्था की जाए.



ये भी पढ़ें-

बागी विधायक के भाई की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने किया सुनवाई से इंकार

सोशल मीडिया में अब भी मंत्री बने हुए हैं बागी, यूजर्स कर रहे भद्दे कमेंट
First published: March 18, 2020, 12:37 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading